Subscribe Now!

जेतली ने US में उठाया H1-B वीजा का मामला

  • जेतली ने US में उठाया H1-B वीजा का मामला
You Are HereAmerica
Friday, April 21, 2017-10:08 AM

वॉशिंगटनः वित्त मंत्री अरुण जेतली ने अमरीका के समक्ष एच-1बी वीजा का मामला उठाया है। जेतली ने वाशिंगटन में अमरीका के कॉमर्स सेक्रेटरी विल्बुर रॉस से मुलाकात के दौरान एच-1बी वीजा का मुद्दा उठाया। जेतली ने रॉस के सामने अमरीका में भारतीय प्रोफेशनल्‍स के रोल से जुड़े पहलुओं को रखा। रॉस ने कहा कि अमरीका ने एच-1बी वीजा मुद्दे को रिव्यू करने की प्रॉसेस शुरू किया है और इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। डोनाल्ड ट्रम्प के प्रेसिडेंट बनने के बाद अमरीका-भारत के बीच कैबिनेट लेवल की यह पहली मीटिंग थी।

H1-B वीजा को लेकर चल रही है बातचीत
जानकारी के अनुसार, वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि पिछले कई सालों से इकोनॉमिक और डिफेंस में भारत-अमरीका के बीच मजबूत और स्‍ट्रैटजिक संबंध बने हुए हैं। जेतली ने कहा, ‘‘उम्‍मीद है दोनों देश अगले कुछ सालों में 500 अरब डॉलर के बायलेटरल ट्रेड का लक्ष्‍य हासिल कर लेंगे।’’ ऐसा माना जा रहा है कि जेतली ने यू.एस. कॉमर्स सेक्रेटरी को नोटबंदी के बाद मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कई नीतिगत फैसलों के बारे में जानकारी दी। इसी बीच, विदेश मंत्रालय ने जानकारी दी है कि वह यू.एस. सरकार के लगातार संपर्क में हैं। भारत की तरफ से एच1-बी वीजा को लेकर बात की जा रही है। इसके अलावा भारत ऑस्‍ट्रेलिया के साथ भी बातचीत कर रहा है। उसकी तरफ से वीजा प्रोग्राम में किए गए बदलाव को लेकर बात चल रही है।

वर्ल्‍ड बैंक और IMF की मीटिंग में शामिल होंगे जेटली 
वित्त मंत्री अरुण जेतली अमरीका के 5 दिवसीय दौरे पर हैं। वह बुधवार रात अमरीकी दौरे पर रवाना हुए। जेतली यहां वर्ल्‍ड बैंक और आई.एम.एफ. की स्प्रिंग मीटिंग में हिस्‍सा लेंगे। इसके अलावा, वह जी-20 नेशंस के प्रतिनिधियों की बैठक में भी शामिल होंगे। वॉशिंगटन और न्‍यूयॉर्क में वह अमरीकी सी.ई.ओ. के प्रतिनिधिमंडल से भी मुलाकात करेंगे। जेतली यू.एस., ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, इंडोनेशिया और स्वीडन के मंत्रियों के साथ बाइलैट्रल मीटिंग करेंगे। वे बांग्लादेश और श्रीलंका के फाइनेंस मिनिस्टर्स के साथ भी मुलाकात कर सकते हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You