पीड़िता को न्याय देने की बजाय पंचायत ने सुनाया शर्मनाक तालिबानी फरमान

  • पीड़िता को न्याय देने की बजाय पंचायत ने सुनाया शर्मनाक तालिबानी फरमान
You Are HereBihar
Wednesday, September 13, 2017-5:27 PM

जमुईः बिहार के जमुई जिले से पंचायत द्वारा जारी किए गए तालिबानी फरमान ने इंसानियत को शर्मसार कर दिया है। पंचायत ने इंसाफ पाने की गुहार लेकर पहुंची पीड़िता पर ही 31 हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया और उसे जूतों की माला पहनाकर गांव में घुमाने का फैसला सुना दिया। 

पंचायत की यह घिनौनी हरकत तब सामने आई जब पीड़िता के पिता न्याय पाने के लिए जमुई थाना पहुंचे। पीड़िता के पिता ने पुलिस को बताया कि रविवार रात को उनकी पत्नी घर में नहीं थी। गरीबी के कारण उनके घर में दरवाजा नहीं है। जब रविवार रात को उन्हें अपनी बेटी के रोने की आवाज सुनाई दी तब उन्होंने देखा कि गांव का राकेश कुमार उनकी बेटी के साथ दुष्कर्म कर रहा है। स्थानीय लोगोंं की मदद से राकेश कुमार को पकड़ लिया गया।

थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। फैसला सुनाने वाले पंचों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पंचायत में सीताराम साह, महेंद्र साह, नरेश साह तथा रंजीत साह शामिल थे।   

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You