गांधी के विचारों से 15 प्रतिशत लोग भी प्रभावित हो जाएं तो देश बदल जाएगा: नीतीश

  • गांधी के विचारों से 15 प्रतिशत लोग भी प्रभावित हो जाएं तो देश बदल जाएगा: नीतीश
You Are HereBihar
Thursday, October 12, 2017-12:13 PM

पटनाः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचारों को राज्य में समाज सुधार के कार्यक्रम लागू करने की प्रेरणा बताया और कहा कि यदि उनके विचार से 15 प्रतिशत लोग भी प्रभावित हो जाएं तो केवल प्रदेश ही नहीं पूरे देश में बड़ा बदलाव आ जाएगा।

कुमार ने गांधी कथावाचन एवं बापू आपके द्वार कार्यक्रम के शुभारंभ के बाद समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में लागू पूर्ण शराबबंदी, दहेजबंदी और बाल विवाह के खिलाफ शुरू किए गए अभियान की प्ररेणा महात्मा गांधी के विचारों के प्रति उनकी सरकार की प्रतिबद्धता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि चंपारण सत्याग्रह के सौवें वर्ष में अप्रैल 2016 में महात्म गांधी के विचारों के प्रति प्रतिबद्धता जताते हुए शराबबंदी लागू की गई। इसके माध्यम से बहुत बड़े सामाजिक परिवर्तन की बुनियाद रखी गई। इससे घरेलू हिंसा में कमी आई, महिला और बच्चों में प्रसन्नता के साथ ही आर्थिक बचत हुई। 

नीतीश कुमार ने कहा कि गांधी जी की विचारों के प्रति प्रतिबद्ध होते हुए ही राज्य में बाल विवाह एवं दहेज प्रथा जैसी सामाजिक कुरीतियों को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए अभियान चलाया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में 39 प्रतिशत विवाह बाल अवस्था में हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि महिला अपराध के मामले में बिहार 26वें स्थान पर जबकि दहेज उत्पीडऩ के मामले में दूसरे स्थान पर है। इन कुरीतियों को समाप्त कर राज्य अच्छी स्थिति को प्राप्त कर सकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने अपने एक फैसले में भारतीय दंड विधान की धारा 375(2) को असंवैधानिक घोषित कर दिया गया है। इसके तहत 15 से 18 वर्ष तक की लड़कियों के साथ बनाये गए यौन संबंध को बलात्कार माना जाएगा। उन्होंने कहा कि न्यायालय का यह निर्णय राज्य में बाल विवाह के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान में काफी मददगार साबित होगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You