RBI की नीतिगत दरों की कटौती में हो सकती है देरी

  • RBI की नीतिगत दरों की कटौती में हो सकती है देरी
You Are HereBusiness
Sunday, August 18, 2013-4:28 PM

नई दिल्ली: देश में डॉलर के मुकाबले लगातार गिरते रुपए को सहारा देने की कोशिश में लगा रिजर्व बैंक फिलहाल नीतिगत दरों में कटौती की तैयारी में नहीं है। इस मामले में बैंक के फैसले में देर हो सकती है। बैंकिंग और वित्तीय सेवा उपलब्ध कराने वाली कंपनी बार्कलेज की रिपोर्ट में इस आशय का खुलासा हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार फिलहाल रिजर्व बैंक की प्राथमिकता रुपए को सहारा देना है।

 

गत सप्ताह यह डॉलर के मुकाबले कमजोर होकर 62 के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर गया था। रिपोर्ट में बार्कलेज ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में रिजर्व बैंक की नीतिगत दरों में इस वर्ष सितंबर से दिसंबर के बीच 0.75 प्रतिशत की कमी किए जाने की उम्मीद थी लेकिन अब यह दिसंबर 2013 से अप्रैल 2014 के बीच ही संभव हो पाएगा। आर्थिक गतिविधियों को तेज करने के लिए औद्योगिक क्षेत्र नीतिगत दरों में कमी करने की मांग कर रहा है।

 

औद्योगिक उत्पादन गत जून में लगातार दूसरे महीने भी कम रहा है। हालांकि रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही की मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दरों में किसी प्रकार का परिवर्तन नहीं किया था। बैंक की आगामी त्रैमासिक समीक्षा अठारह सितंबर को निर्धारित की गई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You