चीनी उत्पादन 2013-14 में अधिक रहने की संभावना: पवार

  • चीनी उत्पादन 2013-14 में अधिक रहने की संभावना: पवार
You Are HereBusiness
Monday, August 19, 2013-3:58 PM

नई दिल्ली: कृषि मंत्री शरद पवार ने आज कहा कि 2013-14 विपणन वर्ष में चीनी उत्पादन इस साल के 2.45 करोड़ टन के स्तर से अधिक रह सकता है। उन्होंने कहा कि बेहतर मानसून की वजह चीनी उत्पादन बढ़ेगा। विश्व के दूसरे सबसे बड़े चीनी उत्पादक भारत में 2012-13 विपणन वर्ष (अक्तूबर-सितंबर) में चीनी उत्पादन 2.45 करोड़ टन रहने का अनुमान है।

यहां पूसा परिसर में हरित क्रांति के जनक नारमन बोरलाग की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में पवार ने कहा, ‘‘गन्ने का उत्पादन लगभग पिछले साल के स्तर पर रहने की संभावना है। लेकिन बेहतर बारिश के चलते चीनी उत्पादन अधिक रहेगा।’’ उन्होंने कहा कि गन्ना उत्पादक राज्यों में बेहतर बारिश से फसल अच्छी रहने की संभावना बढ़ गई है और फसल पिछले साल के मुकाबले बेहतर रह सकती है।

पिछले सप्ताह तक, किसानों ने 48.5 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में गन्ना लगाया है, जबकि बीते साल की इसी अवधि में 50 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में गन्ना लगाया गया था। अन्य खरीफ फसलों पर पवार ने कहा कि दलहनों, तिलहनों, मोटे अनाज और कपास का रकबा अभी तक पिछले साल की तुलना में अधिक है। यह पूछे जाने पर कि क्या अत्यधिक बारिश से फसल खराब हुई है, उन्होंने कहा, ‘‘यह उस स्थिति पर नहीं पहुंची है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You