'भारतीय अर्थव्यवस्था में और गिरावट आने की आशंका'

  • 'भारतीय अर्थव्यवस्था में और गिरावट आने की आशंका'
You Are HereBusiness
Tuesday, August 20, 2013-3:29 AM

नई दिल्लीः विश्व बैंक के मुख्य आर्थिक सलाहाकार डा. कौशिक बसु ने आज कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास दर में और गिरावट आने की आशंका है लेकिन हालत उतनी भी खराब नहीं है जितनी दिखाई जा रही है।

डा. बसु ने यहां भारतीय उद्योग एवं वाणिज्य मंडल (एसौचेम) द्वारा आयोजित 16वें वार्षिक जे आर डी टाटा स्मारक व्याख्यान में कहा कि हालांकि भारतीय अर्थव्यवस्था की हालत उतनी खराब नहीं है, जितनी बताई और दिखाई जा रही है। उन्होंने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में मंदी का माहौल है और इसका असर हर जगह है।

डा.बसु ने कहा, भारतीय अर्थव्यवस्था की हालत उतनी बुरी नहीं है जितनी अमेरिका की है। भारतीय अर्थव्यवस्था की सबसे ज्यादा आलोचना खुद भारतीय कर रहे है। उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में निराशा विदेशो से ज्यादा भारत में हैं। भारतीय अर्थव्यवस्था को विकासशील देशों में दूसरी सबसे तेज गति से बढने वाली अर्थव्यवस्था बताते हुए डा.बसु ने कहा कि अगर अर्थव्यवस्था की विकास दर पांच प्रतिशत या 4.8 प्रतिशत भी रही तो इसका यह दर्जा बरकरार रहेगा।

डा. बसु ने भारतीय अर्थव्यवस्था में तरलता बढाने की वकालत करते हुए कहा कि वित्तीय समेकन दीर्घकाल की आवश्यकता है। इसके लिए मौद्रिक प्रबंधन देख रहे अधिकारियों को उपाय करने चाहिए। उन्होंने कहा कि जापान की तरह भारत में भी अल्पावधि के लिए तरलता बढाने की जरुरत है। रुपए के लगातार हो रहे अवमूल्यन पर उन्होंने कहा कि इस पर अतिवादी होने की आवश्यकता नहीं है।

हालांकि हाल के दिनों में अंतर्राष्ट्रीय मुद्राओं के मुकाबले रुपये में तेज गिरावट देखी गई है। डा. बसु ने सुझाव दिया कि भारतीय रिजर्व बैंक को रुपए की गिरावट थामने के लिए अपने विदेशी मुद्रा भंडार का इस्तेमाल करना चाहिए। हालांकि यह उपाय दीर्घकाल के लिए नहीं है।

उन्होंने कहा कि सुशासन का नहीं होना और भ्रष्टाचार भारत की सबसे बडी समस्याएं हैं। उन्होंने कहा कि अगर लघु उद्योगों को नौकरशाही के हस्तक्षेप के बिना काम करने दिया जाए तो इससे अर्थव्यवस्था पुनः रफ्तार पकड लेगी। डा. बसु ने कहा कि महज पर्यटक वीजा देने की प्रक्रिया को आसान बनाकर बेहतर परिणाम प्राप्त किए जा सकते हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You