विकास दर 5.5 प्रतिशत रहेगी: शर्मा

  • विकास दर 5.5 प्रतिशत रहेगी: शर्मा
You Are HereBusiness
Sunday, September 01, 2013-10:50 AM

मुंबई: वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री आनंद शर्मा ने विश्वास जताया है कि मौजूदा वित्त वर्ष आर्थिक विकास दर 5.5 प्रतिशत रहेगी और वैश्विक स्तर पर सुस्ती के बावजूद निर्यात का प्रदर्शन बेहतर रहेगा। उद्योग मंत्री आज यहां भारतीय निर्यात संवद्र्धन परिषद के नए कार्यालय का उद्घाटन करने के मौके पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि कल जारी किए गए सरकारी आंकडों पर नहीं जाएं।

 

आगे विकास दर अच्छी रहेगी और यह 5.5 प्रतिशत से हरगिज कम नहीं होंगी। शर्मा ने बेहतर विकास दर की उम्मीद के पीछे निर्यात के बेहतर आंकडों का हवाला दिया। उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर सुस्ती के बावजूद पिछले वित्त वर्ष देश के निर्यात ने 303 अरब डॉलर के आंकडे को छू लिया था जो कि चार वर्ष पहले की तुलना में लगभग दोगुना अधिक रहा। शर्मा ने कहा कि मौजूदा वित्त वर्ष के शुरुआती चार महीनो में निर्यात का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है।

 

निर्यात के नए अनुबंध भी मिल रहे हैं जिससे निर्यात का आंकडा 325 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। उद्योग मंत्री ने कहा कि सरकार ने निर्यात क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए कई प्रभावी उपाय किए हैं। इसके अलावा अमेरिका की ओर से देश के आधारभूत क्षेत्र में 120000 हजार करोड डॉलर के निवेश की योजना से भी निर्यात क्षेत्र को काफी लाभ होगा। उन्होंने कहा कि निर्यात के लिए आधारभूत स्तर पर अभी काफी कुछ करना बाकी है।

 

इसके लिए देश के सभी बंदरगाहों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाया जाना जरूरी है। व्यापार घाटे को कम करने के लिए रिजर्व बैंक और सरकार की ओर से सोने के आयात पर प्रतिबंध लगाने के कदम का समर्थन करते हुए शर्मा ने कहा कि सबसे ज्यादा विदेशी मुद्रा तेल और सोने के आयात पर खर्च होती है। तेल आवश्यकता है इसलिए इसके आयात को तो कम नहीं किया जा सकता लेकिन सोने पर ऐसी बंदिश लगाई जा सकती है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You