निजी कंपनियों का शुद्ध मुनाफा पहली तिमाही में 10.9 प्रतिशत घटा

  • निजी कंपनियों का शुद्ध मुनाफा पहली तिमाही में 10.9 प्रतिशत घटा
You Are HereBusiness
Sunday, September 29, 2013-11:50 AM

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में सूचीबद्ध गैर-वित्तीय निजी कंपनियों के शुद्ध लाभ में औसतन 10.9 प्रतिशत की गिरावट आई। केंद्रीय बैंक ने एक रपट में कहा गया है कि सालाना आधार पर बिक्री वृद्धि में गिरावट जारी रही और यह 2.6 प्रतिशत के निचले स्तर पर आ गई।

इस दौरान कच्चे माल पर खर्च घटने के कारण कुल व्यय वृद्धि भी घटकर 2.2 प्रतिशत पर आ गई। ‘निजी कंपनियां व्यापार क्षेत्र का प्रदर्शन’ शीर्षक वाली रपट में यह निष्कर्ष 2,768 सूचीबद्ध गैर सरकारी गैर वित्तीय कंपनियों के संक्षिप्त वित्तीय परिणामों के आधार पर निकाला गया है। इसके अनुसार पहली तिमाही में कंपनियों के औसत शुद्ध मुनाफे में 10.9 प्रतिशत की गिरावट आई। शुद्ध लाभ में लगातार दूसरी तिमाही में गिरावट आई है।

जनवरी मार्च 2012-13 की तिमाही में इस शुद्ध मुनाफे में 16 प्रतिशत की गिरावट आई थी। यह गणना 2,686 कंपनियों के औसत मुनाफे पर आधारित है। बीते वित्त वर्ष की पहली तिमाही में यह गिरावट (2790 कंपनियों पर आधारित) 10.7 प्रतिशत रही थी। केंद्रीय बैंक का कहना है कि विभिन्न तिमाहियों में रपट में शामिल कंपनियों की संख्या अलग-अलग होती है क्योंकि यह उनके द्वारा त्रैमासिक परिणामों की घोषणा की तारीख पर निर्भर करता है हालांकि इसका ‘कुल स्थिति पर अधिक असर पडऩे की संभावना नहीं है।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You