रिलायंस ने केजी डी6 पर रिपोर्ट खारिज की

  • रिलायंस ने केजी डी6 पर रिपोर्ट खारिज की
You Are HereBusiness
Sunday, October 13, 2013-5:08 PM

नई दिल्ली: रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) ने डीजीएच द्वारा नियुक्त एक सदस्यीय विशेषज्ञ की रिपोर्ट यह कहते हुए खारिज की है कि इस तरह के जटिल मुद्दे पर अध्ययन महज एक सप्ताह में करके रिपोर्ट जारी कर दी गई।

हाइड्रोकार्बन महानिदेशालय (डीजीएच) ने कंपनी की केजी डी6 फील्ड्स में उत्पादन में गिरावट के कारणों का पता लगाने के लिए यह अध्ययन कराया था। कंपनी का आरोप है कि विशेषज्ञ पी. गोपालकृष्णन द्वारा तैयार 11 पन्नों की रिपोर्ट का इस्तेमाल पेट्रोलियम मंत्रालय द्वारा यह दिखाने के लिए किया जा रहा है कि आरआईएल ने केजी डी6 में उत्पादन को कम किया है और इसलिए उसे पिछले तीन साल में उत्पादन में कमी की भरपाई होने तक ऊंचा गैस मूल्य नहीं दिया जाना चाहिए।

आरआईएल और उसकी साझीदार बीपी ने पेट्रोलियम मंत्री एम. वीरप्पा मोइली एवं उनके मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों के समक्ष दी प्रस्तुति में कहा, ‘‘ऐसे जटिल भंडार के बारे में महज एक सप्ताह में अध्ययन कर रिपोर्ट जारी कर दी गई।’’ कंपनी ने कहा, ‘‘यह रिपोर्ट केवल मार्च, 2011 तक के क्षेत्र निष्पादन आंकड़ों पर आधारित है और क्षेत्र का जायजा लिए बगैर या ठेकेदार के साथ बिना किसी बातचीत के इसे जारी किया गया।’’ 

गोपालकृष्णन को हाइड्रोकार्बन महानिदेशालय (डीजीएच) द्वारा इस काम के लिये चुना गया और उन्होंने 2011 में अपनी रिपोर्ट में कहा कि केजी डी6 के उत्पादन में गिरावट भूगर्भिय समस्याओं के कारण नहीं आई है जैसा कि रिलायंस दावा करती रही है। रिपोर्ट में कहा गया है कि क्षेत्र से पहले वर्ष में उम्मीद के अनुरूप उत्पादन हुआ लेकिन ठेकेदार ने क्षेत्र विकास योजना के अनुरूप नये कुओं की खुदाई नहीं की, जिससे उत्पादन में गिरावट आई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You