अपने PF खाते को करें चेक, 2.5 करोड़ खातों में नेगेटिव बैलेंस

  • अपने PF खाते को करें चेक, 2.5 करोड़ खातों में नेगेटिव बैलेंस
You Are HereBusiness
Saturday, October 19, 2013-10:41 AM

नई दिल्ली: यदि आपने इन दिनों अपनी प्रविडेंट फंड (पीएफ)  खाता चेक नहीं किया है तो इसकी जांच जरुर करें। हो सकता है कि आपके खाते में नेगेटिव बैलेंस दिख रहा हो। पीएफ अकाउंट का 30 फीसदी या करीब 2.5 करोड़ अकाउंट्स में नेगेटिव बैलेंस है। धोखाधड़ी करने वाले लोगों ने फर्जी विड्रॉल क्लेम से एंप्लॉयीज की रिटायरमेंट सेविंग्स में सेंध लगा दी है। इसके लिए फर्जी आइडेंटिटी डॉक्युमेंट्स की मदद से बैंक अकाउंट खोले गए हैं।

पीएफ डिपार्टमेंट पिछले कुछ दिनों में अलग-अलग दो निष्कर्ष से भौंचक्का है। अब डिपार्टमेंट डैमेज कंट्रोल करने में लगा है। इसने सभी फील्ड ऑफिसर्स को सख्त दिशानिर्देश जारी कर इन गड़बड़ियों की जिम्मेदारी तय करने को कहा है। इसके अलावा डिपार्टमेंट ने नेगेटिव बैलेंस को ठीक करने और सिस्टम के जरिए कोई फर्जी दावा नहीं होने को सुनिश्चित करने को कहा है।

करीब 8.15 करोड़ फॉर्मल सेक्टर एंप्लॉयीज की पीएफ अकाउंट को लेकर चिंता बढ़ गई है। इनमें उन लोगों की मुश्किलें ज्यादा बढ़ सकती हैं, जो पिछले कुछ सालों के दौरान कई नौकरियों में शिफ्ट हुए हों और पीएफ बैलेंस निकाल नहीं पाएं हों या उसे ट्रांसफर नहीं करा पाए हों।

एंप्लॉयीज प्रविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (ईपीएफओ) के चीफ विजिलेंस ऑफिसर संजय कुमार ने आंतरिक जांच शुरू करने के आदेश दिए थे। इसमें फर्जी निकासी और लंबे समय से बिना फ्रेश इनफ्लो वाले अकाउंट के साथ गड़बड़ी होने की बात सामने आई है।

इस तरह के दावों में सिस्टम की जांच और बैलेंस से पकड़ में नहीं आने वाले हथकंडे अपनाए गए हैं। समझा जाता है कि पीएफ स्टाफ पर इन सभी फर्जी दावों को आसानी से क्लियर करने के लिए सभी तरह के हथकंडे अपनाए गए हैं। ऐसे में धोखेबाजों को डोरमेंट (निष्क्रिय) अकाउंट्स की जानकारी साझा करने और इस लूट में सक्रिय भागीदारी में इनसाइडर्स के शामिल होने की पूरी संभावना जताई जा रही है। इस फर्जीवाड़े से बैंकों के नो युअर कस्टमयर या केवाईसी नॉर्म्स को लेकर भी सवाल उठने लगे हैं।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'पिछले कई सालों से ईपीएफ ऑफिस में इस तरह की गड़बड़ी हो रही है। हमने इस पर सख्ती की है और दोषियों के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है।' हालांकि, उन्होंने यह भी कहा, 'यह संभव है कि धोखाधड़ी के सभी मामले आपराधिक नहीं भी हो सकते हैं। कई बार एंप्लायर अपने रिश्तेदारों को एंप्लॉयीज बताकर पीएफ अकाउंट बना देते हैं।'

ईपीएफओ ने अप्रैल 2011 में तीन साल से अधिक समय तक डोरमेंट स्थिति वाले अकाउंट्स में इंटरेस्ट क्रेडिट करना बंद कर दिया है। इस समय करीब 3.04 करोड़ पीएफ अकाउंट को डोरमेंट स्टेट या इनऑपरेटिव माना गया है। इन अकाउंट्स में करीब 16,000 करोड़ रुपए का बैलेंस है।

गड़बड़ी के ये मामले तब सामने आए जब ईपीएफओ ने हाल ही में अपने खातों को सही करने का अभियान शुरू किया था। इसमें सभी मेंबर्स के अकाउंट को अप-टू-डेट करने का प्लान था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You