‘पीडीएस में स्मार्टकार्ड के इस्तेमाल से बचाए जा सकते हैं 20,000 करोड़’

  • ‘पीडीएस में स्मार्टकार्ड के इस्तेमाल से बचाए जा सकते हैं 20,000 करोड़’
You Are HereBusiness
Saturday, October 19, 2013-12:26 PM

नई दिल्ली: स्मार्टकार्ड प्रौद्योगिकी से भारत को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के छद्म लाभार्थियों को समाप्त करने में मदद मिल सकती है और इससे देश को सालाना 20,000 करोड़ रुपए बचाने में मदद मिल सकती है। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने आज कहा कि इन छद्म लाभार्थियों के कारण पीडीएस में भारी गड़बडिय़ां होती हैं।

कैबिनेट सचिवालय में अतिरिक्त सचिव अनिल स्वरूप ने स्मार्टकार्ड आधारित राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना का हवाला देते हुए कहा, ‘प्रौद्योगिकी के कारण पीडीएस में पारदर्शिता आ सकती है और देश को प्रतिवर्ष करीब 20,000 करोड़ रुपए की बचत करने में मदद मिल सकती है।’ पीडीएस प्रणाली संयुक्त रूप से केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा चलाई जाती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You