रतन टाटा ने विमानन उद्यम को एफआईपीबी की मंजूरी के बाद शर्मा से की मुलाकात

  • रतन टाटा ने विमानन उद्यम को एफआईपीबी की मंजूरी के बाद शर्मा से की मुलाकात
You Are HereBusiness
Friday, October 25, 2013-3:58 PM

नई दिल्ली: एफआईपीबी द्वारा टाटा-सिंगापुर एयरलाइन्स संयुक्त उद्यम को विमानन कंपनी शुरू करने की मंजूरी दिए जाने के बाद टाटा समूह के पूर्व चेयरमैन रतन टाटा ने आज वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री आनंद शर्मा से मुलाकात की। टाटा के साथ सिंगापुर एयरलाइन्स (एसआईए) के मुख्य कार्यकारी गोह चून फोंग और टाटा एसआईए एयरलाइन्स के चेयरमैन प्रसाद मेनन भी थे।

टाटा ने इस संबंध में जहां टिप्पणी करने से इनकार किया वहीं मंत्री ने कहा कि यह मुलाकात एक सामान्य शिष्टाचार के तहत थी। एफआईपीबी द्वारा इस उद्यम को मंजूरी मिलने के बाद टाटा ने फोंग के साथ कल वित्त मंत्री पी चिदंबरम से भी मुलाकात की थी। विदेशी निवेश संवद्र्धन बोर्ड (एफआईपीबी) ने कल सिंगापुर एयरलाइन्स को टाटा सन्स के साथ मिलकर भारत में साझा विमानन सेवा कंपनी शुरू करने की मंजूरी दी। सिंगापुर एयरलाइंस इसमें शुरू में 4.9 करोड़ डॉलर निवेश करेगी और 49 प्रतिशत की हिस्सेदार होगी।

कंपनी पर नियंत्रण टाटा समूह का होगा। विमानन क्षेत्र में यह टाटा का दूसरा उद्यम है। इससे पहले फरवरी में टाटा समूह ने मलेशियाई की बजट एयरलाइंस एयरएशिया के साथ गठजोड़ किया था। आर्थिक मामलों के सचिव अरविंद मायाराम ने कहा था कि संयुक्त उद्यम को मंजूरी देने के साथ के लिए कोई शर्त नहीं रखी गई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You