भारती का वरिड समूह के कांगो कामकाज के लिये समझौता

  • भारती का वरिड समूह के कांगो कामकाज के लिये समझौता
You Are HereBusiness
Tuesday, November 05, 2013-3:11 PM

नई दिल्ली: अफ्रीकी बाजारों में अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए भारती एयरटेल ने आज कहा कि वरिड ग्रुप से कांगो के कामकाज के अधिग्रहण के लिए एक समझौता किया है। इस अधिग्रहण से भारती एयरटेल, कांगो गणराज्य में सबसे बडा मोबाइल आपरेटर बन जाएगा और इसके वहां 26 लाख ग्राहक होंगे। वर्तमान में कंपनी दूसरे नंबर पर है और इसके 16 लाख ग्राहक हैं।

जबकि वरिड तीसरे नंबर की कंपनी है और उसके लगभग 10 लाख ग्राहक है। एयरटेल ने वरिड समूह से कांगो के कामकाज के अधिग्राहण के लिए एक निश्चित समझौता किया है। कंपनी ने बयान में कहा है कि समझौता विनियामक और कानूनी स्वीकृति पर निर्भर करता है। लेकिन समझौते के वित्तीय पक्ष का विवरण नहीं दिया गया है। एयरटेल द्वारा अफ्रीका में दूसरा अधिग्रहण है। इससे पहले इसी कंपनी के युगांडा में कामकाज का अधिग्रहण किया था। वरिड के ग्राहक अब ‘एयरटेल वन’ से जुड जाएंगे।

उन्हें अफ्रीका ओर दक्षिण एशिया में रोमिंग की सुविधा भी मिलेगी। भारतीय एयरटेल के एमडी और सीईओ, अतंर्राष्ट्रीय, मनोज कोहली ने कहा कि यह देश के भीतर अधिग्रहण करके अपनी स्थिति मजबूत करने की रणनीति के अनुकूल है। एयरटेल के 17 अफ्रीकी देशों में 6 करोड 60 लाख से अधिक ग्राहक हो गए है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You