बचत खाते पर ब्याज तीन महीने से पहले मिलेगा

  • बचत खाते पर ब्याज तीन महीने से पहले मिलेगा
You Are HereBusiness
Saturday, November 30, 2013-3:00 PM

मुंबई: बैंक ग्राहकों को अपने बचत खातों तथा सावधि जमाओं पर ब्याज अब तीन महीने से पहले मिलेगा। भारतीय रिजर्व बैंक ने इस बारे में नये दिशा निर्देश जारी किए हैं। अधिकांश बैइक फिलहाल बचत खातों पर ब्याज हर छह महीने खाते में डालते हैं। केंद्रीय बैंक ने आज जारी अधिसूचना में कहा है,  बैंकों के पास अब बचत व सावधि जमाओं (रपये) पर ब्याज का भुगतान तिमाही से पहले करने का विकल्प होगा।

अब कम समय के लिए भी ब्याज की गणना होगी और बैंक आपको बचत खाते तथा टर्म डिपॉजिट के लिए कहीं ज्यादा ब्याज मिलेगा। दरअसल बैंक इस समय तीन महीने के आधार पर ब्याज की गणना करके ग्राहकों को देते हैं लेकिन इससे महीने में ब्याज लेने वालों को घाटा होता है। अगर तीन महीने का ब्याज 300 रुपए है तो एक महीने में 100 रुपए देने की बजाय बैंक कम राशि देते हैं। अर्ली पेमेंट के नाम पर वह ब्याज की कुल राशि घटा देते हैं। लेकिन अब उन्हें पूरे 100 रुपए देने होंगे।

दरअसल बैंक इस समय लोगों से धन जुटाने के मामले में पिछड़ रहे हैं। जनता का धन कम खर्च वाला होता है और इसके लिए बैंकों को अतिरिक्त धन नहीं देना होता है। इससे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नए गवर्नर एम राजन नाखुश हैं। उन्होंने इच्छा जताई है कि बैंकों में जनता और धन जमा करे। इसके लिए ही आरबीआई ने यह कदम उठाया है। अब हर महीने ब्याज देने से बैंकों पर आर्थिक दबाव तो पड़ेगा लेकिन उन्हें फायदा यह होगा कि वे ज्यादा डिपॉजिट आकर्षित कर सकेंगे।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You