'बढ़ती ऊर्जा मांग पूरी करने के लिए बाजार आधारित मूल्य व्यवस्था जरूरी'

  • 'बढ़ती ऊर्जा मांग पूरी करने के लिए बाजार आधारित मूल्य व्यवस्था जरूरी'
You Are HereBusiness
Wednesday, December 04, 2013-6:18 AM

नई दिल्ली: ऊर्जा खपत के मामले में देश के आगामी 7 वर्ष में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता बनने की संभावनाओं के बीच प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज कहा कि बढ़ती ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए आधुनिक प्रौद्योगिकी एवं बाजार आधारित मूल्य व्यवस्था जरूरी है।

8वें एशिया गैस भागीदारी शिखर सम्मेलन के अवसर पर प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘देश को आगामी 2 दशकों में अपनी ऊर्जा आपूर्ति 3 से 4 गुना तक बढ़ाने की आवश्यकता है। ईंधन एवं ऊर्जा उत्पादन के मामले में फिलहाल भारत का दुनिया में 7वां नंबर है।

प्रधानमंत्री ने कहा-देश की ऊर्जा खपत में तेल एवं गैस की हिस्सेदारी करीब 41 प्रतिशत है और वर्ष 2020 तक भारत के कुल ऊर्जा खपत के मामले में दुनिया का तीसरा बड़ा देश बन जाने की संभावना है। इस समय भारत ऊर्जा खपत के मामले में अमरीका, चीन और जापान के बाद चौथा बड़ा उपभोक्ता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You