चीनी मिलों को मिलेगा ब्याज मुक्त ऋण: पवार

  • चीनी मिलों को मिलेगा ब्याज मुक्त ऋण: पवार
You Are Herecommodity
Friday, December 06, 2013-4:13 PM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा गठित मंत्री समूह ने गन्ना किसानों के बकाए का भुगतान करने के लिए चीनी मिलों को 7200 करोड़ रुपए का ब्याज मुफ्त ऋण उपलब्ध कराने की सिफारिश की है। मंत्री समूह की आज यहां हुई बैठक में पेट्रोल में एथनाल का उपयोग पांच प्रतिशत से बढाकर दस प्रतिशत करने की भी मंजूरी दी गई।

कृषि मंत्री शरद पवार ने बैठक के बाद संवाददाताओं को बताया कि चीनी मिलों को गन्ना किसानों के बकाए के भुगतान के लिए ही बैंकों से ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। मंत्री समूह की बैठक में पवार के अलावा वित्त मंत्री पी.चिदम्बरम, खाद्य मंत्री के बी थामस, नागर विमानन मंत्री अजित सिंह और पेट्रोलियम मंत्री वीरप्पा मोइली उपस्थित थे। इसके अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी बैठक में हिस्सा लिया।

पवार ने बताया कि चीनी मिलों के ऋण पर जो 12 प्रतिशत का ब्याज लगेगा उसमें से सात प्रतिशत गन्ना विकास कोष से तथा पांच प्रतिशत केन्द्र सरकार की ओर से दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी तक पेट्रोल में पांच प्रतिशत एथनाल मिलाने की स्वीकृति थी जिसे बढाकर दस प्रतिशत करने की मंत्री समूह ने सिफारिश की है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You