इस महीने सोना हो जाएगा सस्ता!

  • इस महीने सोना हो जाएगा सस्ता!
You Are HereBusiness
Monday, December 16, 2013-12:35 PM

भारत सोने की दुनिया का सबसे बड़ा खरीदार देश है, लेकिन यहां सोने का उत्पादन नहीं के बराबर होता है, इसलिए यहां सोने का सबसे ज्यादा इम्पोर्ट होता है। पिछले साल भारत ने लगभग 700 टन सोने का इम्पोर्ट किया था। इस पर देश को 88 अरब डॉलर खर्च करने पड़े थे। इस साल अकेले मई महीने में उसने 182 टन सोने का रिकॉर्ड इम्पोर्ट किया था। इससे डॉलर पर बहुत जो़र पड़ा। वह और ऊपर चढ़ गया। इम्पोर्ट बढ़ने से और एक्सपोर्ट जहां के तहां रहने से चालू बजट घाटा (सीएडी) बढ़ गया।

सरकार ने इसे रोकने के लिए ही कड़े कदम उठाए जिसमें ड्यूटी में बढ़ोतरी और उसकी सप्लाई पर अंकुश लगाए गए, लेकिन इसका बुरा असर हुआ और न केवल सोने की स्मगलिंग शुरू हो गई, बल्कि आभूषणों के निर्यात को भी धक्का लगा। इसका सोने के कारोबार में लगी कंपनियों पर बड़ा बुरा असर पड़ा है और वे इस समय सरकार से बेहद नाराज हैं। उसकी लॉबी इस समय सक्रिय है। बड़े ज्वेलर अरबों डॉलर के सोने के आभूषण निर्यात करते हैं। उनके सामने समस्या खड़ी हो गई है।

अब चालू बजट घाटा भी कम हो गया है। अब यह संतोषजनक स्तर पर आ गया है। दूसरी ओर डॉलर भी रुपए के मुकाबले 10 प्रतिशत सस्ता हो गया है। सोने का इम्पोर्ट भी काफी घट गया है। जुलाई में तो मात्र 47.5 टन सोने का इम्पोर्ट हुआ, जबकि अगस्त में तो लगभग 10 टन से ज्यादा सोने का इम्पोर्ट नहीं हुआ। सबसे बड़ी बात है कि बाज़ार में सोने का स्टॉक भी नहीं है।

ऐसी स्थिति में सरकार सोने पर लगे नियंत्रण को कम करना चाहती है, हालांकि कुछ हल्कों में अभी सख्ती जारी रखने की भी बात की जा रही है, लेकिन ऐसा लगता है कि सरकार 2 प्रतिशत इम्पोर्ट ड्यूटी कम कर सकती है और इसका फैसला लोक सभा सत्र खत्म होने के बाद हो सकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You