2028 में भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगा

  • 2028 में भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगा
You Are HereBusiness
Friday, December 27, 2013-3:57 PM

नई दिल्ली: भारत 2028 तक जापान को पीछे छोड़कर दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। लंदन स्थित आर्थिक सलाहकार कंपनी सीईबीआर ने यह अनुमान लगाया है। सीईबीआर का कहना है कि 2028 में चीन और अमेरिका के बाद भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगा। सीईबीआर की 2013 के लिए विश्व आर्थिक लीग टेबल रिपोर्ट में कहा गया है कि इस सूची में भारत इस साल कनाडा से एक पायदान खिसक गया है। इस समय भारत दुनिया की 11वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि जनांकिकी और आर्थिक वृद्धि के बूते भारत इस सूची में आगे बढ़ेगा और 2028 तक वह जापान को पछाड़ते हुए दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। यह रिपोर्ट सलाहकार कंपनी की सालाना गणना है। 2012 के लिए इसका आधारभूत आंकड़ा अंतर्राष्ट्रीय मुद्राकोष के विश्व आर्थिक परिदृश्य तथा जीडीपी अनुमान जो सीईबीआर के वैश्विक संभावना मॉडल पर आधारित है। यह मॉडल वृद्धि, महंगाई तथा विनिमय दरों का अनुमान लगाता है।

यह रिपोर्ट 30 बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का साल अंत का अनुमान लगाती है। इसमें उन देशों का उल्लेख होता है जो 5, 10 और 15 साल बाद दुनिया की 30 बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में होंगे। वर्ष 2013 की लीग टेबल में भारत 1,758 अरब डॉलर के जीडीपी के साथ 11वें स्थान पर है। 2018 तक भारत के 2,481 अरब डॉलर के साथ नौवें स्थान पर पहुंचने का अनुमान है। 2023 तक भारत 4,124 अरब डॉलर के जीडीपी के साथ चौथे स्थान पर होगा और 2028 तक 6,560
अरब डॉलर के साथ तीसरे स्थान पर होगा।

2013 की लीग टेबल में शीर्ष 20 अर्थव्यवस्थाओं की सूची में सिर्फ दो बदलाव होंगे। वर्ष 2018 तक उभरती अर्थव्यवस्थाएं आगे बढ़ेंगी। रूस छठे स्थान पर होगा, भारत नौवें, मेक्सिको 12वें, कोरिया 13वें तथा तुर्की 17वें स्थान पर होगा। वर्ष 2023 तक भारत और ब्राजील तेजी से आगे बढ़ेगे और क्रमश: चौथे और पांचवें स्थान पर पहुंच जाएंगे। रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि 2028 तक लीग टेबल में चीन पहले स्थान पर पहुंच जाएगा।

उसके बाद अमेरिका दूसरे, भारत तीसरे, मेक्सिको नौवें तथा कनाडा दसवें स्थान पर होंगे। इसमें कहा गया है कि डालर मूल्य में चीन का जीडीपी 2028 तक अमेरिका से अधिक हो जाएगा। इस बीच, 2030 के आसपास जर्मनी को पीछे छोड़कर जर्मनी पश्चिम यूरोप की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You