‘आप’ की नीतियां विचारणीय : एसोचैम

  • ‘आप’ की नीतियां विचारणीय : एसोचैम
You Are HereBusiness
Sunday, December 29, 2013-6:13 AM

नई दिल्ली: वाणिज्य एवं उद्योग संगठन एसोचैम ने कहा है कि आम आदमी पार्टी (आप) ने जनता को सरकार से सीधे जोड़कर भारतीय राजनीति में एक नई शुरूआत की है। एसोचैम ने कहा कि ‘आप’ की ओर से पेश की गई आर्थिक नीतियां विचारणीय हैं। अगर इनसे बेहतर परिणाम आते हैं तो विचारधारा से कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।

‘आप’ के संयोजक अरविंद केजरीवाल के आज दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर एसोचैम ने कहा कि ‘आप’ की जनता से किए गए वादों की सूची काफी लंबी है। बिजली शुल्क में कटौती के मामले में उनके विचार अभी तक तो एक बेहतर आर्थिक समझ को प्रदर्शित करते हैं लेकिन इस उद्देश्य को परिचालन दक्षता के जरिए ही पूरा किया जा सकता है।

केजरीवाल ने कहा है कि करीब 30 प्रतिशत बिजली का नुक्सान हो जाता है जिसे उन्नत उपकरणों के माध्यम से कम किया जा सकता है। संगठन ने ‘आप’ के उद्देश्यों की सराहना करते हुए कहा कि ‘आप’ ने उद्योग जगत के लिए कोई विशेष रूपरेखा नहीं तय की है लेकिन उसने आम लोगों विशेषकर हाशिए के लोगों के सशक्तिकरण पर जोर दिया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You