सेवा क्षेत्र के कमजारे आंकडों से लगातार चौथे दवस गिरा बाजार

  • सेवा क्षेत्र के कमजारे आंकडों से लगातार चौथे दवस गिरा बाजार
You Are HereBusiness
Monday, January 06, 2014-5:24 PM

मुंबई: एशियाई बाजारों से मिले कमजोर संकेत तथा घरेलू स्तर पर देश के सेवा क्षेत्र मे पिछले छह महीनों से जारी सुस्ती के कारण आगे अर्थव्यस्था को लेकर बढती चिंताओं के बीच देश के शेयर बाजार आज लगातार चौथे दिवस गिरावट लेकर बंद हुए। बैकिंग, रियलटी, आईटी और पावर वर्ग के शेयरों में चौतरफा बिकवाली से बाम्बे स्टाक एक्सचेंज (बीएसई) का सेंसेक्स 64.03 अंक गिरकर 20787.30 अंक के स्तर पर और नेशनल स्टाक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 19.70 अंक घटकर 6191.45 अंक के स्तर पर रहा।

बडी कंपनियों की तुलना में छोटी और मझौली कंपनियों का प्रदर्शन बाजार में अच्छा रहा जिससे बीएसई के मिडकैप और स्मालकैप सूचकांक में क्रमश 0.35 और 0.95 प्रतिशत की तेजी रही। दिसंबर में देश के सेवा क्षेत्र में लगातार छठे महीने सुस्ती बनी रही। जिसकी वजह से इसकी सेहत मापने का पैमान एचएसबीसी सर्विस पीएमआई आलोच्य अवधि में 47.2 अंक से घटकर 46.7 के स्तर पर आ गई। एचएसबीसी सर्विस पीएमआई लगातार पिछले छह महीने से 50 के स्तर से नीचे बना हुआ है।

सेवा क्षेत्र की पीएमआई वर्ष 2008-09 के बाद पहली बार इतने लंबे समय तक नीचे रहा है। एचएसबीसी के सॢवस पीएमआई के साथ ही दिसंबर में एचएसबीसी का कंपोजिट सूचकांक भी नवंबर के 48.5 अंक से घटकर 48.1 अंक के स्तर पर आ गया। यह सूचकांक सेवा और विनिर्माण क्षेत्र दोनों की सेहत मापने का पैमाना माना जाता है। सबसे चिंता की बात यह रही कि एचएसबीसी के कंपोजिट सूचकांक में यह लगातार छठे महीने कमजोरी आई है। इन आंकडों ने बाजार में निवेश धारणा को कमजोर बनाया जिससे इनपर बिकवाली का दबाव बना।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You