जल्द पेश होगा आकाश 4

  • जल्द पेश होगा आकाश 4
You Are HereBusiness
Thursday, January 09, 2014-1:37 PM

नई दिल्ली: प्रौद्योगिकी के माध्यम से उच्च शिक्षा से सुदूर क्षेत्र के छात्रों को जोडऩे के प्रयासों के तहत अब सस्ता टैबलेट ‘आकाश 4’ अगले कुछ महीने में पेश हो जाएगा और इसकी निविदा को इस महीने के अंत तक अंतिम रूप दे दिया जाएगा। संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री कपिल सिब्बल ने एक कार्यक्रम से इतर कहा, ‘‘ आकाश के उन्नत संस्करण (आकाश 4) के निविदा संबंधी कार्य को जनवरी 2013 के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा।’’ उन्होंने कहा कि देश के सुदूर क्षेत्रों में उच्च शिक्षा के प्रसार के लिए सस्ता टैबलेट आकाश संप्रग सरकार की महत्वपूर्ण पहल है।

 

फाइबर आप्टिक केबल के माध्यम से सुदूर क्षेत्रों तक इसका प्रसार किया जाएगा। वहीं, मानव संसाधान विकास मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि इसके तहत 22 लाख 47 हजार टैबलेट खरीदने का प्रस्ताव है और सबसे पहले इन्हें इंजीनियरिंग संकाय के छात्रों को प्रदान किया जायेगा। इस प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान करने के लिए जल्द ही एक कैबिनेट नोट तैयार किया जाएगा। इस पर 330 करोड़ रुपये खर्च आने का अनुमान व्यक्त किया गया है और इसके तहत 22.47 लाख टैबलेट डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सप्लायज एंड डिस्पोजल (डीजीएसएंडडी) के माध्यम से खरीदे जाने का प्रस्ताव है।

 

करीब 35 डालर मूल्य के इस टैबलेट को छात्रों को सब्सिडी के आधार पर प्रदान किया जायेगा और इसका खर्च मानव संसाधन मंत्रालय और संबंधित संस्थान 50-50 के आधार पर वहन करेंगे। आकाश 4 टैबलेट अगले वर्ष जनवरी तक पेश किया जायेगा जिसमें देश की कई क्षेत्रीय भाषाओं में पढऩे और संपादन करने की सुविधा होगी। सूचना संचार प्रौद्योगिकी के जरिये राष्ट्रीय उच्च शिक्षा कार्यक्रम (एनएमईआईसीटी) के एक अधिकारी ने बताया कि नए आकाश में अब छात्र को क्षेत्रीय भाषाओं में पढऩे और संपादन करने की सुविधा मिलेगी।

 

आकाश के नए संस्करण में हिन्दी, कन्नड़, तेलगू, मलयाली, तमिल, मराठी, गुजराती, पंजाबी, बांग्ला, ओडिय़ा, असमिया, उर्दू, मणिपुरी, संस्कृत, देवनागरी आदि भाषाओं में पढऩे और संपादन की सुविधा होगी। आकाश के नए संस्करण में आडियो-वीडियो चैट कांफ्रेंस की सुविधा भी होगी। एनएमईआईसीटी के तहत तैयार किए जा रहे नए आकाश में अब छात्र को क्षेत्रीय भाषाओं में पढऩे और संपादन करने की सुविधा मिलेगी।

 

आकाश 4 के मसौदे के अनुसार, इसमें 1 जीबी मेमोरी, 4 जीबी या अधिक की आंतरिक स्टोरेज क्षमता के साथ 2जी, 3जी एवं 4जी डाटा कनेक्टिविटी डोंगल की सुविधा होगी।  सात इंच के टच स्क्रीन वाला आकाश 4 वाई फाई, ब्लूटूथ से जुड़ा होगा। इसकी बैटरी को बेहतर बनाया गया है और इसका जीवन दो वर्ष होगा। इसमें पीडीएफ फाइल पढऩे की सुविधा के साथ टेक्स्ट एडीटर और ई बुक रीडर भी है। नए आकाश से छात्रों को उनके सवालों और उलझनों का तत्काल जवाब मिल सकेंगे।

 

सस्ते टैबलेट आकाश के नये एवं उन्नत संस्करण में ‘क्लिकर’ प्रणाली जोड़ी गई है जिस पर छात्र और अध्यापक संवाद कर सकेंगे। क्लिकर प्रणाली के मध्यम से आकाश पर क्विज खेले जा सकते हैं और जनमत सर्वेक्षण भी कराये जा सकते हैं। इस पर हिस्सा लेने वालों का प्रदर्शन ‘बार चार्ट’ और ‘पाई चार्ट’ के रूप में देखा जा सकता है। क्लिकर प्रणाली से न केवल उपस्थिति दर्ज कराने में लगने वाले बहुमूल्य समय को बचाया जा सकता है बल्कि एक साथ बड़ी संख्या में छात्रों की परीक्षा ली जा सकती है। आकाश के नए उन्नत संस्करण में क्लिकर प्रणाली से क्विज प्रश्नावली जोड़ी गई है जिसमें विभिन्न सुदूर क्षेत्रों के छात्र हिस्सा ले सकते हैं। गौरतलब है कि अभी आकाश टैबलेट की आपूर्ति का काम एक कंपनी डाटाविंड को दिया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You