अनिवार्य स्थानीय खरीद को घटाकर 15 प्रतिशत किया जाए: वालमार्ट

  • अनिवार्य स्थानीय खरीद को घटाकर 15 प्रतिशत किया जाए: वालमार्ट
You Are HereBusiness
Sunday, January 12, 2014-3:32 PM

नई दिल्ली: अमेरिकी बहु ब्रांड खुदरा कंपनी वालमार्ट ने भारत से इस क्षेत्र में विदेशी निवेशकों के लिए स्थानीय खरीद की अनिवार्यता घटाकर 15 प्रतिशत करने को कहा है। कंपनी का कहना है कि वह भारत में बहु ब्रांड खुदरा स्टोर खोलने के लिए स्थानीय खरीद के लिए तय स्तर को पूरा नहीं कर सकती। सूत्रों के अनुसार कंपनी ने कहा है, ‘वह 30 प्रतिशत अनिवार्य स्थानीय खरीद के नियम को पूरा नहीं कर सकती और केवल लगभग 20 प्रतिशत सामान ही छोटी इकाइयों से खरीद सकती है।’

हालांकि कंपनी ने इस अनिवार्य सीमा को घटाकर 15 प्रतिशत करने की मांग की है। उल्लेखनीय है कि सरकार ने पिछले साल इस विवादास्पद अनुबंध में कुछ बदलाव किया था। इसके तहत भारत में स्टोर खोलने की इच्छुक बहु ब्रांड खुदरा कंपनियों को अपने कारोबार की शुरुआत में अपने उत्पादों का 30 प्रतिशत हिस्सा लघु एवं मझौले उद्यमों से खरीदना होगा। सूत्रों के अनुसार औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग (डीआईपीपी) ने वालमार्ट को स्पष्ट रूप से बता दिया है कि सकार इस उपबंध में ढील नहीं देगी।

वालमार्ट इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, ‘हम एफडीआई नीति का अध्ययन करते रहेंगे।’ उन्होंने कहा कि वालमार्ट भारत तथा बाजार को लेकर प्रतिबद्ध है। बहु ब्रांड खुदरा कारोबार में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) नीति की जरुरतों के अनुसार पहले चरण में कम से कम 30 प्रतिशत विनिर्मित एवं प्रसंस्कृत उत्पाद देश के छोटे उद्योगों से खरीदने होंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You