भारत-पाक तीन बैंकों को ब्रांच खोलने की अनुमति देंगे

  • भारत-पाक तीन बैंकों को ब्रांच खोलने की अनुमति देंगे
You Are HereBusiness
Thursday, January 16, 2014-7:42 PM

इस्लामाबाद: भारत तथा पाकिस्तान एक दूसरे के तीन बैंकों को अपने यहां शाखाएं खोलने की अनुमति देने पर काम कर रहे हैं ताकि व्यापारिक रिश्तों में सुधार लाने में मदद मिले। अगस्त 2012 में यह घोषणा की गई थी कि दोनों पक्षों ने हर देश के दो बैंकों को पूर्ण बैंकिंग का लाइसेंस जारी करने पर सहमति जताई है।

जिन दो बैंकों को पाकिस्तान में परिचालन की अनुमति दी गई उनमें भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) तथा बैंक ऑफ इंडिया शामिल थे। वहीं पाकिस्तान के अद्र्ध सरकारी नेशनल बैंक ऑफ पाकिस्तान तथा निजी स्वामित्व वाले यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को भारत में पूर्ण बैंकिंग परिचालन के लिए चुना गया था। हालांकि इस दिशा में आगे ज्यादा कुछ नहीं हुआ। पाकिस्तान के वाणिज्य मंत्री खुर्रम दस्तगीर खान ने पेट्र को बताया कि पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ की भारत यात्रा के दौरान यह मुद्रा वाणिज्य मंत्री आनंद शर्मा के समक्ष उठा था।

उन्होंने कहा, हमें बताया गया कि इस संबंध में भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी तरफ से शर्तों को नरम किया है, अब केवल दो बैंकों की बात नहीं है बल्कि शर्तों को पूरा करने वाला कोई भी बैंक आवेदन कर सकता है। फिलहाल हर तरफ से तीन बैंकों पर काम कर रहे हैं। भारत यात्रा पर रवाना हुए खान ने कहा, स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान ने हाल ही में भारतीय रिजर्व बैंक को लिखा है कि तीन बैंक भारत में शाखा खोलना चाहते हैं। मुझे नहीं पता कि यह कब होगा। कुछ काम हुआ है। उन्होंने कहा कि सामान्य व्यापार संबंधों में सबसे बड़ी बाधा जटिल वीजा प्रणाली है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You