आयकर विभाग की निगाह विदेशी सोने के खरीदारों पर

  • आयकर विभाग की निगाह विदेशी सोने के खरीदारों पर
You Are HereBusiness
Sunday, January 19, 2014-11:39 AM

नई दिल्ली: सीमा शुल्क विभाग शुल्क भुगतान के बाद विदेशों से देश में सोना लाने वाले भारतीयों का वित्तीय ब्योरा आयकर विभाग के साथ साझा करेगा। यह कदम देश में संदिग्ध तरीके से पीली धातु लाने की जांच को उठाया गया है। नियमों के अनुसार, जो भारतीय विदेश में छह माह से अधिक समय से रह रहा है, वह सीमा शुल्क का भुगतान कर अपने साथ एक किलोग्राम तक सोना ला सकता है। यह शुल्क 10 फीसदी की दर से लगता है और इसका भुगतान उस देश की मुद्रा में किया जाता है, जहां सोना खरीदा गया है।

इसके अलावा यदि भारतीय एक साल से अधिक से विदेश में रह रहा है, तो ऐसे मामले में पुरुष 50,000 रुपए व महिला एक लाख रुपए तक का सोना किसी तरह का सीमा शुल्क दिए बिना देश में ला सकते हैं। राजस्व खुफिया विभाग (डीआरआई) ने बताया कि 2013-14 के दौरान देश में सीमा शुल्क का भुगतान कर कानूनी तरीके से 3,000 किलोग्राम सोना लाया गया है। डीआरआई तस्करी व सीमा शुल्क चोरी रोकने का काम करता है।

डीआरआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘कानूनी तरीके से एक किलोग्राम सोना लाने के मामले बढ़े हैं। इस तरह की आशंका है कि हवाला ऑपरेटर ऐसे लोगों को कुछ भुगतान कर इस नियम का फायदा उठा रहे हैं। ऐसे लोगों के पैन कार्ड का ब्योरा आयकर विभाग को दिया जा रहा है, जिसे उनकी आमदनी के स्रोत तथा किसी तरह की गड़बड़ी पर रोक को सुनिश्चित किया जा सके।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You