स्विस बैंक ने ग्राहकों के लिए नकदी रखने की नई रणनीति बनाई

  • स्विस बैंक ने ग्राहकों के लिए नकदी रखने की नई रणनीति बनाई
You Are HereBusiness
Tuesday, January 21, 2014-4:37 PM

ज्यूरिख: स्विस बैंक का गोपनीयता विशेषाधिकार खत्म होने के बाद अब कुछ बैंक भारत और अन्य देशों के अमीर ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए एक नया तरीका अपना रहे हैं और ‘नकदी कुरियर’ जैसी सुविधाएं दे रहे हैं। साथ ही करेंसी नोट, सोना, कलाकृतियां और अन्य बहुमूल्य सामग्री जमा कराने के लिए धातु के तहखाने उपलब्ध कराने की पेशकश भी कर रहे हैं। ज्यूरिख में बिटकॉयन एटीएम के परिचालन में आने के मद्देनजर आभासी मुदा के तौर पर धन रखने का भी सुझाव दिया जा रहा है।

स्विट्जरलैंड में आल्प्स की गोद में बसे शहर दावोस में विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की सालाना बैठक में विश्व के अमीरों का जमावड़ा हो रहा है और उनमें से कई स्विस बैंक के अधिकारियों से मिलने वाले हैं ताकि अपना गुप्त धन सुरक्षित रखने के लिए नई रणनीति बनाई जा सके। स्विस बैंकों के कई अधिकारियों ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर स्वीकार किया कि ऐसी बैठकें इस सप्ताह दावोस सम्मेलन और ज्यूरिख में होनी है। इन बैठकों में भारतीय ग्राहकों के प्रतिनिधियों के साथ होने वाली बातचीत भी शामिल है। बड़े बैंक प्रतिनिधियों ने कहा कि वे अपने ग्राहकों को अपना गुप्त धन यहां रखने से जुड़े संभावित जोखिम के बारे में सलाह दे रहे हैं जबकि कई छोटे बैंकों ने दावा किया कि नकदी वाल्ट की सेवाओं के उपयोग में जोखिम कम होता है जिस पर हालांकि इन पर सेवा शुल्क, रखरखाव और किराया अधिक है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You