RBI ने किया डिप्टी गवर्नरों के कार्यों का पुनर्विभाजन

  • RBI ने किया डिप्टी गवर्नरों के कार्यों का पुनर्विभाजन
You Are HereBusiness
Wednesday, January 22, 2014-1:44 AM

मुम्बई: भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) ने आनंद सिन्हा के डिप्टी गवर्नर पद के सेवा विस्तार की समय सीमा पूरी होने के मद्देनजर 3 डिप्टी गवर्नरों के.सी. चक्रवर्ती, एच.आर. खान और उरजीत पटेल के कार्यों का पुनर्विभाजन किया है। सिन्हा के पास बैंकिंग संचालन विभाग, जोखिम प्रबंधन, सूचना प्रौद्योगिकी और व्यय एवं बजटीय नियंत्रण समेत 8 विभागों का प्रभार था। उन्हें प्राप्त 11 माह की सेवा विस्तार की समय सीमा कल समाप्त हो गई।

रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा है कि डिप्टी गवर्नरों के कार्यों के पुनर्निर्धारण के तहत चक्रवर्ती को उपभोक्ता सेवा विभाग, बैंकिंग निरीक्षण विभाग, मुद्रा प्रबंधन विभाग, वित्तीय स्थिरता इकाई, मानव संसाधन प्रबंधन विभाग, शहरी बैंक विभाग तथा वैधानिक एवं संयोजन कार्यों के विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। खान को केंद्रीय सुरक्षा प्रकोष्ठ, विदेशी निवेश एवं संचालन विभाग, सरकार एवं बैंक अकाऊंट विभाग, भुगतान एवं निपटारा विभाग, विदेशी मुद्रा प्रणाली विभाग, आंतरिक ऋण प्रबंधन विभाग, छानबीन विभाग, गैर-बैंकिंग निरीक्षण विभाग का दायित्व दिया गया है।

इसी तरह पटेल पर संचार विभाग, आर्थिक नीति एवं शोध विभाग, सांख्यिकी एवं सूचना प्रबंधन विभाग, वित्त बाजार विभाग, मौद्रिक नीति विभाग, व्यय एवं बजटीय नियंत्रण विभाग, जोखिम निगरानी विभाग, राजभाषा विभाग और सूचना का अधिकार संभाग की जिम्मेदारी होगी। आर.बी.आई. ने कहा कि नए डिप्टीगवर्नर की नियुक्ति के बाद फिर से इनके कार्यों का पुनर्निधारण किया जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You