रशिया पहुंचा Micromax, लॉन्च किए दो स्मार्टफोन

  • रशिया पहुंचा Micromax, लॉन्च किए दो स्मार्टफोन
You Are HereGadgets
Friday, January 24, 2014-1:51 PM

इंडियन हैंडसेट मेकर माइक्रोमैक्स ने रशिया की तरफ अपने कदम रख दिए हैं। माइक्रोमैक्स इंडिया की दूसरी सबसे बड़ी हैंडसेट मेकर कंपनी बनकर उभर रही है। माइक्रोमैक्स ने कैनवास और बोल्ट सीरीज को रशिया में लॉन्च किया है।

वीवीपी ग्रुप का सहयोग ले विदेशी देशों में माइक्रोमैक्स ने अपने पांव जमाने की योजना बनाई है। माइक्रोमैक्स इंडिया में 2nd और वर्ल्ड में 11th नंबर पर आने वाला मोबाइल ब्रैंड है जिसने अब डब्लूपी ग्रुप के साथ पार्टनरशिप करके रशिया में भी अपने ऑपरेशन्स शुरू कर दिए हैं। डब्लूपी रशिया के लीडिंग डिस्ट्रीब्यूशन हाउसेस में से एक है। इस स्टेप से रशिया जैसी बड़ी कंट्री में माइक्रोमैक्स की ब्रैंड रीच बढ़ने की उम्मीद की जा रही है।

कंपनी रशिया में ऑपरेशन्स की शुरुआत अपनी कैनवस सिरीज के 14 स्मार्टफोन्स और बोल्ट सिरीज के स्मार्ट फीचर फोन्स से करेगी। सर्विस के लिए माइक्रोमैक्स मंथ एण्ड तक 60 सर्विस सेंटर्स सेट करेगी। कंपनी की रशिया लॉन्च से ऐसा लग रहा है कि माइक्रोमैक्स जल्द ही यूरोपियन मार्केट में भी एंट्री करने की सोच रहा है। माइक्रोमैक्स के को फाउंडर राहुल शर्मा का कहना है कि वो चाहते हैं कि वो ग्लोबल मार्केट में जाने वाले पहले इंडियन हार्डवेयर ब्रैंड बने।

वैसे इससे पहले भी माइक्रोमैक्स के ग्लोबल लॉन्च के इंटेंशंस का हिंट मिला था जब उसने अपने उस टैबलेट को जो एंड्रोइड और विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम दोनों पर काम करेगा उसे लास वेगास में होने वाले वर्ल्ड के सबसे बड़े टेक शो कंज्यूमर्स इलेक्ट्रॉनिक शो में शोकोस करने का अनाउंसमेंट किया था। इसके अलावा माइक्रोमैक्स के ब्रैंड अम्बैसेडर के लिए हॉलीवुड एक्टर ह्यूग जैकमैन का सिलेक्शन भी माइक्रोमाक्स के ग्लोबल इंटेंशंस को क्लियर करता है।

ग्लोबल होने की रेस में माइक्रोमैक्स अकेली नहीं है, इसके अलावा लावा भी एशिया और अफ्रीका के मार्केट्स में एंट्री करने की सोच रही है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You