मैंने इस जिम्मेदारी के लिए खुद हाथ उठाया: नडेला

  • मैंने इस जिम्मेदारी के लिए खुद हाथ उठाया: नडेला
You Are HereBusiness
Wednesday, February 05, 2014-2:34 PM

न्यूयार्क: भारत में जन्मे सत्य नडेला ने कहा है कि माइक्रोसॉफ्ट के शीर्ष पद को स्वीकार करने के लिए उन्होंने खुद हाथ उठाया क्यों कि वह कंपनी के मुख्य कार्यकारी के रुप में काम करते हुए उन्हें ‘सॉफ्टवेयर की शक्ति से संचालित दुनिया’ पर प्रभाव छोडने और और कुछ नया करने का मौका मिलेगा। माइक्रोसॉफ्ट में पिछले 22 साल से काम कर रहे 46 वर्षीय नडेला को कल प्रौद्योगिकी क्षेत्र की इस विशाल कंपनी का मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त किया गया। कंपनी के सह संस्थापक बिल गेट्स उनके सलाहकार होंगे।

गेट्स कंपनी के चेयरमैन पद से हट गए हैं। अब वह निदेशक मंडल में संस्थापक और प्रौद्योगिकी सलाहकार के रुप में रहेंगे तथा कंपनी को ज्यादा समय देंगे। कंपनी की वेबसाइट पर प्रकाशित एक साक्षात्कार में नडेला ने कहा कि उन्होंने बहुत गंभीरता से सोचा कि वह मुख्य कार्यकारी क्यों बनना चाहते हैं और जवाब था कि वह अपनी छाप छोडऩा चाहते हैं। यह पूछने पर कि वह माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी क्यों बनना चाहते हैं नडेला ने कहा ‘‘जब मौका आया तो यही सवाल मैंने अपने आप से भी पूछा।’’

नडेला ने कहा ‘‘जब यह सोचता हूं कि मैं मूल रूप से यहां क्यों हूं, तो लगा अपना असर छोडऩे के लिए। सॉफ्टवेयर से संचालित दुनिया के दौर में माइक्रोसॉफ्ट से बेहतर जगह क्या होगी। इस के लिए हमारे पास 1,30,000 लोगों की ताकत है और तेजी से साफ्टवेयर से संचालित होती दुनिया में इसका उपयोग कर सकते हैं। मूल रूप से यही मौका मुझे प्रेरित कर सकता है और यहां तक लेकर आया। मैंने खुद आगे बढ़कर यह जिम्मेदारी संभाली।’’

नडेला बाद ने माइक्रोसॉफ्ट के ग्राहकों और भागीदारों के साथ संक्षिप्त वार्ता भी की। इसमें उन्होंने इस बात पर बल दिया कि उनका ध्यान कुछ नया करने पर होगा ताकि ऐसी दुनिया में माइक्रोसॉफ्ट की प्रगति होती जहां हर रोज जीवन को प्रौद्योगिकी से नया आकार मिलता रहता है। नडेला ने कहा ‘‘हमारा कारोबार उत्साहजनक है क्योंकि इसमें किसी परम्परा का सम्मान नहीं करना होता।’’ उन्होंने कहा ‘‘हम पहले क्लाउड, पहले मोबाइल वाले दौर में जी रहे हैं।’’
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You