Auto Expo Day 5: बसें और ट्रक भी हैं लोगों के दिलचस्पी का केंद्र

  • Auto Expo Day 5: बसें और ट्रक भी हैं लोगों के दिलचस्पी का केंद्र
You Are HereBusiness
Sunday, February 09, 2014-5:59 PM

ग्रेटर नोएडा: (अमित द्विवेदी) जब हम बात हाईवे की करते हैं तो सबसे पहले जो चीज दिमाग में आती है वो हैं ट्रक। बिना ट्रक के हाईवे कैसा और सदियों पुरानी धारणा है। ग्रेटर नोएडा के एक्सपो सेंटर में चल रहे 12वें आटो एक्सपो में भले ही लोग कारों व बाइकों का दीदार करने आ रहे हों लेकिन बस और ट्रक भी उनके दिलचस्पी का विशय बने हुए हैं। महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स, आयषर, अषोक लेलैंड जैसे पंडालों में खड़ी बसों व ट्रकों को देखने के लिए रविवार को लंबी लाइन नजर आई। रविवार को लोगों के बीच से आइए हम आटो एक्सपो में खड़े हैवी वेहिकल से रूबरू करवाते हैं जो किसी जादू से कम नहीं हैं क्योंकि हो सकता है कि अपनी कार खरीदने में वक्त लग जाए लेकिन पसंदीदा बस में चढऩे का मौका तो कभी भी मिल सकता है क्योंकि वो पबिलक ट्रांसपोर्ट के लिए बनाई जाती हैं। तो आइए आपको रूबरू करवाते हैं कुछ अनोखे ट्रकों, बसों और एंबूलेंसों से।  

टाटा की नई आर्टीकुलेटेड बस
टाटा मोटर्स का पंडाल इस बार के आटो एक्सपो में सबसे बड़ा है। यहां पर टाटा ने एक साथ कारों व ट्रकों को अलग-अलग सेक्षन में प्रदर्षित किया है। लेकिन इसके बावजूद सबसे अधिक लोगों का ध्यान खींच रही है टाटा स्टारबस अर्बन 918 एफई आर्टीकुलेटेड बस। मेट्रो व ट्रेन की तरह इस बस में एक कोच जुड़ा हुआ है। इस बस में अधिक यात्रियों को बिठाने की सुविधा है तथा इसके फीचर बहुत ही सहज व मददगार हैं। इसके पहले कोच का व्हीलबेस 6200 मिलीमीटर है तो दूसरे कोच का 6000 मिलीमीटर है। 17 हजार 950 मिलीमीटर लंबी व 2600 मिलीमीटर चौड़ी इस बस में 43 सवारियों के बैठने की जगह है तथा 48 लोगों के खड़े होने की। इसमें क्यूमिन्स आईएसबीई 280 एचपी डीजल वीएस-4 6.7 लीटर 6 सिलेंडर इंजिन लगा है। कंपनी का कहना है कि यह बस अपने हाइड्रोलिक पावर स्टीयरिंग से बहुत सटीकता से हैंडल होती है। लेकिन इस बस की सबसे खास बात ये है कि यह मैट्रो जैसी लगती है। और लोग इस बात को लेकर काफी असमंजस में दिखे कि भला दिल्ली, मुंबई व कोलकाता जैसे भारी भरकम ट्रैफिक वाले षहरों में यह बस कैसे चलेगी। लेकिन लोगों की इस जिज्ञासा का समाधान तभी होगा जब बस सड़कों पर आ जाएगी।

इसके अलावा टाटा ने एक और बस आटो एक्सपो में प्रदर्षित की है जिसका नाम है एफई पैरलल हाइब्रिड बस। 6200 मिलीमीटर व्हील बेस वाली इस बस में 697 सीआरआई6 बीएस4 इंजिन लगा है जो कि 2400 आरपीएम पर 130 एचपी की षकित व 1350-1800 आरपीएम के बीच 430 एनएम का टार्क पैदा करता है। इसके हाइब्रिड को सषक्त बना रही हैं इसमें लगी लायन बैटरियां 14‐5 एएच व 4.4 केडब्ल्यूएच की अधिकतम उर्जा अपने पास संग्रहीत करके रखती हैं। यह बस 70 किमीप्रघं की गति तक चल सकती है। इसकी डीजल टैंक क्षमता 120 लीटर की है लेकिन यह बाजार में कब तक आएगी यह कहना जल्दबाजी होगा। फिलहाल यह आटो एक्सपो की षोभा बढ़ा रही है।

ताकि ट्रक ड्राइवर भी रहें कूल
पिछले कुछ सालों के ट्रक एक्सीडेंट के आंकड़ों को उठाकर देखें तो अधिकतर दुर्घटनाएं इसलिए हुई हैं क्योंकि ट्रक ड्राइवर गाड़ी चलाते वक्त सो गया था। एक ट्रक के एक्सीडेंट में लाखों का नुकसान सिर्फ ट्रक का ही नहीं होता बलिक बिजनेस का भी होता है। अब ट्रक निर्माता कंपनियां इस बात का पूरा ध्यान रख रही हैं कि ड्राइवर की केबिन ऐसा हो जिससे वह आराम से ड्राइव कर सके। टाटा की प्राइम सीएक्स1618टी ट्रक पूरी तरह से एसी केबिन, व पावर स्टीयरिंग से सुसजिजत है। एक षोध के मुताबिक जिक्र किया गया था इस तरह के ट्रकों से ड्राइवर एक दिन में 40 फीसदी तक अधिक दूरी तय कर सकता है। सबसे खास बात ये है कि ट्रक के केबिन को कूल करने से इसके माइलेज पर कोई खास असर नहीं पड़ता। इस बात को सभी भारी वाहन निर्माता कंपनियां समझ रही हैं और आटो एक्सपो में नजर आए एसी केबिन वाले ट्रक। महिंद्रा एंड महिंद्रा, स्कानिया, अषोक लेलैंड व आयषर की ट्रकों में भी दिखा। आटो एक्सपो में दिखे भारी वाहनों की कार्यषैली व आटो एक्सपो में प्रदर्षन से यह पता चला कि अब कंपनियां ड्राइवर हितों का पूरा ख्याल रखती हैं।

जेबीएम के सिटी लाइफ का जलवा
आने वाले कुछ दिनों में अब हमें एक और कंपनी की लो फ्लोर बस देखने को मिलेगी और वह बस है जेबीएम की सिटी लाइफ। 12वें आटो एक्सपो में लोग इस बस में सवार होकर अपने कंफर्ट की विवेचना कर रहे हैं। माना जा रहा है कि यह बस जिस तरह से बनाई गई है उससे बस बनाने वाली अन्य कंपनियों को एक बार फिर से सोचना होगा। कंपनी के पास फिलहाल हर साल 2000 बसों को बनाने की क्षमता है। इस बस में फीचरों की भरमार है। इस बस की पेषकष कंपनी ने 500 करोड़ रुपये की परियोजना के साथ किया है। इस लो फ्लोर बस में डीजल और सीएनजी विकल्प दिया गया है। हालांकि पहली नजर में देखने पर अन्य लो फ्लोर बसों जैसी ही लगती है लेकिन इसमें बैठने के बाद इसकी खासियत का अंदाज लगता है।

कार बनाम घर
आटो एक्सपो में पीसीपी मोटर के टेरा होम कार तक लोग लाइन में लगकर पहुंच रहे हैं। टेरा होम कार में घुसते ही ऐसे लगता है जैसे कि आप किसी लक्जरी कमरे में पहुंच गए हों जहां सोने, बैठने व टायलेट जाने की भी व्यवस्था है। पूरी तरह एयरकंडीषन से सुसजिजत यह कार पूरे आटो एक्सपो में चर्चा का विशय बनी हुई है। कंपनी का दावा है कि वह पहली ऐसी कंपनी है जो इस तरह की कार बना रही है जिसमें आफिस का काम चलते-फिरते किया जा सकता है। इस कार में ड्राइवर के अलावा 6 लोग आराम से यात्रा कर सकते हैं। इसमें हीटर, एसी, रेफ्रीजरेटर, माइक्रोवेव, वाषरूम, षावर, षेल्फ(जूते, जैकेट, षर्ट रखने के लिए), स्पेषल डिजाइन ड्रार्स, किचन, स्टीरियो मल्टीमीडिया सिस्टम जैसे जरूरी चीजें दी गई हैं। यह कार घर जैसी लगती है। ड्राइवर को पीछे का व्यू देखने के लिए रिवर्स कैमरा लगाया गया है। हालांकि यह कार कब रोड पर आएगी इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है। लेकिन लोग आटो एक्सपो में इस घर जैसी कार का आनंद ले रहे हैं।

फ्लीट मैनेजमेंट का सहारा
भारी वाहन निर्माता कंपनियां अपने बिजनेस को बूस्ट करने के लिए कंपनियां फ्लीट मैनेजमेंट जैसे कार्यक्रमों का सहारा ले रही है। आटो एक्सपो में टाटा मोटर्स ने टाटा फ्लीट मैन के नाम से स्कीम षुरू किया तो स्कानिया ने स्कानिया फ्लीट मैनेजमेंट को षुरू किया है। इन स्कीमों के तहत ट्रकों का पूरा ख्याल रखती हैं जिसके तहत वो रीएल टाइम वेहिकल ट्रैकिंग, एक्जीक्यूटिव डैषबोर्ड, जियो फेंसिंग, ट्रिप मैनेजमेंट, एक्सटेंसिव रिपोर्ट, इंस्टेंट एसएमएस और ईमेल एलर्ट की सुविधा प्रदान करता है। इन दोनों ही कंपनियों की यह स्कीम काफी हद तक एक जैसी ही है। स्कानिया कहती है कि इस स्कीम को खरीदने वाले ट्रक का ड्राइवर हमेषा हमारी नजरों में रहता है इसलिए बहुत सारी चीजें सही रहती हैं तथा ड्राइवर इमानदारी के साथ अपना काम पूरा करता है। यह मैनेजमेंट भारत में धीरे-धीरे लोकप्रिय हो रहा है। इन योजनओं की पहल इसलिए अहम मानी जा रही है क्योंकि पिछले कुछ सालों में ट्रक मालिकों को ड्राइवरों की वजह से काफी नुकसान उठाना पड़ा है।

आटो एक्सपो में भाग ले रही कामर्षियल वाहन निर्माता कंपनियां
-टाटा मोटर्स
-अषोक लेलैंड
-स्कानिया
-महिंद्रा एंड महिंद्रा
-आयषर
-एसएमएल इसुजू


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You