विंडोज एक्सपी का सपोर्ट बंद होने से प्रभावित होंगे बैंक

  • विंडोज एक्सपी का सपोर्ट बंद होने से प्रभावित होंगे बैंक
You Are HereBusiness
Wednesday, March 05, 2014-12:49 AM

मुंबई: माइक्रोसाफ्ट द्वारा विंडोज एक्सपी आपरेंटिग सिस्टम के लिए तकनीकी सहायता बंद करने की घोषणा से देश के बैंकिग उद्योग सहित कई प्रतिष्ठानों के लिए सुरक्षा का खतरा पैदा हो गया है। माइक्रोसाफ्ट आठ अप्रैल से विंडोज एक्सपी के लिए सिक्यूरिटी पैच उपलब्ध नही कराएगा और न ही उसका आटोमैटिक अपडेट एप्लीकेशन काम करेगा हालांकि माइक्रोसाफ्ट का मालिसियस साफ्टवेयर रिमूवल टूल (एमएसआरटी) 14 जुलाई 2015 तक उपलब्ध होगा मगर इसके लिए यूजर को इसे वेवसाइट से डाउनलोड करना पड़ेगा।

मशहूर एंटी वायरस कंपनी (सीमेंटेक) में भारत और सार्क के विपणन निदेशक तरण कौरा ने कहा है कि देश भर में फैली विभिन्न बैंकों की हजारों शाखायें और प्रतिष्ठान विंडोज एक्सपी आपरेटिंग सिस्टम पर आधारित एप्लीकेशन इस्तेमाल कर रहे हैं। माइक्रोसाफ्ट की इस घोषणा से इन प्रतिष्ठानों को सुरक्षा सबंधी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है क्योकि हैकर डाटा बैंक में अधिक सुगमता से सेंध लगा सकते हैं।

एक सलाहकार कंपनी की रिपोर्ट के अनुसार सार्वजनिक क्षेत्र के 70 प्रतिशत ग्रामीण बैंक विंडोज एक्सपी का इस्तेमाल करते हैं जबकि शहरी क्षेत्र में कार्यरत 40 प्रतिशत बैंक विंडोज एक्सपी पर आधारित एप्लीकेशन प्रयोग में ला रहे हैं। माइक्रोसाफ्ट के इस कदम से सार्वजनिक बैंक की 34 हजार से अधिक शाखाओं के प्रभावित होने की आशंका है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You