...तो इसलिए बंद होंगे 10 रुपए के नोट!

  • ...तो इसलिए बंद होंगे 10 रुपए के नोट!
You Are HereBusiness
Saturday, March 15, 2014-12:01 PM

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने 2005 से पहले जारी किए नोटों को बाजार से वापस लेने का फैसला किया था। दूसरी तरफ आम लोगों ने 50 पैसे के सिक्कों को बाजार से बाहर करने का फैसला बहुत पहले ही ले लिया था। देश में 50 पैसे के सिक्के की कीमत इस वक्त सबसे कम है। सरकार ने वर्ष 2011 में 25 पैसे का सिक्का बंद कर दिया था।

आरबीआई ने पुराने नोटों की जगह नए नोटों को जारी करने की वजह ब्लैक मनी बताया। केंद्रीय बैंक नए नोटों को पहले से ज्यादा बेहतर और सुरक्षित बना रही है। 

हाल ही में प्रकाशित एक खबर में मजेदार बात सामने आई है। इसमें खबर के मुताबिक इस सिक्के को अब वजन के हिसाब से नापा जा रहा है। एक रेड़ीवाला एक किलो 50 पैसे के सिक्के के बदले 30 रुपए देने को तैयार है। इसका साफ मतलब यह निकलता है कि 50 पैसे का सिक्का अब पिछड़ने के बाद ज्यादा मूल्यवान हो गया है।

सरकार अब मुद्रा नोटों को कम करने की कोशिश कर रही है। जल्द ही 10 रुपए के नोट की जगह सिक्का ले लेगा क्योंकि पर्स में रखे-रखे नोटों की जिदंगी सीमित रह जाती है और इसकी छपाई भी महंगी पड़ती है। यही वजह है कि कम मूल्य वाले नोटों को बाहर कर दिया जाएगा और सिक्के उनकी जगह ले लेंगे। जल्द ही 50 रुपए का नोट ही न्यूनतम मूल्य वाला नोट होगा, हालांकि, अब भी 20 रुपए का नोट मौजूद है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You