बाउंस चेक खोना बैंक को पड़ा महंगा, साढ़े बारह लाख देने का आदेश

  • बाउंस चेक खोना बैंक को पड़ा महंगा, साढ़े बारह लाख देने का आदेश
You Are HereBusiness
Sunday, March 16, 2014-9:41 AM

ठाणे: महाराष्ट्र के नासिक जिला स्थित एक बैंक को उपभोक्ता फोरम ने आदेश दिया है कि दो भाइयों के चेक खोने की एवज में उन्हें चेक की साढ़े बारह लाख रुपए की राशि और 50-50 हजार रुपया जुर्माना अदा करें। फोरम के अध्यक्ष झावलिकर तथा सदस्य एन.डी. कदम ने अपने आदेश में कहा कि यह राशि 30 दिन के अंदर दोनों भाइयों को अदा कर दी जानी चाहिए। सतना निवासी पोपट धवल काकुल्टे और त्रिंबक धवल काकुल्टे ने फोरम में शिकायत दी थी कि 06 अप्रैल 2010 को उन्होंने देना बैंक की सतना शाखा में क्रमश: साढ़े सात लाख और पांच लाख रुपए का चेक जमा कराया था। यह चेक पार्सिंक जनता सहकारी बैंक की ठाणे शाखा का था।

जब 24 अप्रैल 2010 को वे चेक के बारे में पता करने बैंक पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि उनका चेक बाउंस हो गया है और देना बैंक की ठाणे खाखा से सतना शाखा भेजते समय रास्ते में खो गया है। बैंक ने सारी जानकारी देते हुए एक पत्र भी उन्हें दिया। इसके बाद दोनों भाइयों ने उपभोक्ता फोरम का दरवाजा खटखटाया था।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You