भावे, अब्राहम बेहद निष्ठावान अधिकारी रहे हैं: मोंटेक

  • भावे, अब्राहम बेहद निष्ठावान अधिकारी रहे हैं: मोंटेक
You Are HereBusiness
Sunday, March 23, 2014-10:02 AM

नई दिल्ली: सेबी के पूर्व प्रमुख सी.बी. भावे और इसके पूर्व सदस्य के एम अब्राहम का बचाव करते हुए योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने आज कहा कि वे बेहद निष्ठावान अधिकारी रहे हैं और सीबीआई ने उन पर कोई आरोप नहीं लगाया है। उन्होंने कहा ‘‘भावे और अब्राहम प्रतिष्ठित हैं। वे बेहद ईमानदार अधिकारी हैं। साथ ही यह भी याद रखें कि सीबीआई ने उन पर कोई आरोप नहीं लगाया है। वह सिर्फ जांच कर रही है।’’

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने 2008 में एमसीएक्स शेयर बाजार को लाइसेंस देने के संबंध में भावे, सेबी के सदस्य रहे अब्राहम, जिग्नेश शाह के नेतृत्व वाली फिनांशल टेक्नोलाजीज इंडिया लिमिटेड (एफटीआईएल) एवं एमसीएक्स तथा अन्य के खिलाफ जांच शुरू की है। यह पूछने पर कि क्या अपने आपको निर्दोष साबित करने की जिम्मेदारी भावे और अन्य आरोपियों पर है, अहलूवालिया ने कहा ‘‘नहीं। यह सही नहीं है। यह सिर्फ जांच है। जिम्मेदारी जांच एजेंसी (सीबीआई) की है। मामला बनता है या नहीं। अभी तक उन पर कोई आरोप नहीं लगाया गया है।’’ उन्होंने कहा कि भारत में ऐसी प्रणाली की जरूरत है कि जांच जल्दी पूरी हो। ऐसी जांच के दायरे में आने वाले लोग इसलिए नाराज हैं कि इसमें बहुत वक्त लगता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You