Business Talk: 'कांग्रेस का नौकरियों में आरक्षण लोकलुभावन वादा'

  • Business Talk: 'कांग्रेस का नौकरियों में आरक्षण लोकलुभावन वादा'
You Are HereBusiness
Thursday, March 27, 2014-2:50 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को यह वादा किया कि आम चुनाव के बाद यदि वह सत्ता में आएगी, तो निजी क्षेत्र की नौकरियों में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों को आरक्षण दिया जाएगा। उद्योगपतियों ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि यह यह लोकलुभावन वादा है और इसमें कुछ भी नया नहीं है। बायोकॉन की प्रबंध निदेशक किरण मजूमदार शॉ ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा, ‘‘अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों के लिए निजी क्षेत्र की नौकरियों में आरक्षण की मांग वाला कांग्रेस का घोषणापत्र सबसे बुरे स्तर का लोकलुभावनवाद है।’’

 

लोकसभा चुनाव के लिए बुधवार को जारी किए गए अपने घोषणापत्र में कांग्रेस ने कहा कि वह निजी क्षेत्र में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के लिए अफर्मेटिव एक्शन पर राष्ट्रीय सहमति बनाने के लिए कटिबद्ध है। प्रमुख उद्योग संघ फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) और भारतीय उद्योग परिसंघ ने कहा कि पार्टी ने पहले के घोषणा पत्र में किए गए वादों को सिर्फ दोहराया भर है और इस मुद्दे पर भ्रम बरकरार है। सरकारी कंपनियों में खाली पड़े आरक्षित पदों के बारे में कांग्रेस ने घोषणा पत्र में वादा किया है कि वह यह सुनिश्चित करेगी कि सभी पद भरे जाएं और इसके लिए एक विशेष अभियान चलाया जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You