प्रीपेड कार्डों के लिए नियम होंगे कड़े

  • प्रीपेड कार्डों के लिए नियम होंगे कड़े
You Are HereBusiness
Saturday, March 29, 2014-5:20 PM

मुंबई: भारतीय रिजर्व बैंक ने प्रीपेड भुगतान इंस्ट्रयूमेंट (कार्ड) जारी करने के संबंध में अपने नियमों को कड़ा व चुस्त-दुरूस्त बनाया है तथा उनका अधिकतम मूल्य 50,000 रुपए तय किया है। केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा है कि इस तरह के इंस्ट्रयूमेंट में अधिकतम बैलेंस 50,000 रुपए से अधिक नहीं होगा।

इस तरह के कार्ड जारी करने वाले सभी कंपनियों को कड़े मनी लांड्रिंग नियमों तथा प्रासंगिक केवाईसी नियमों का पालन करना होगा। कोई भी कार्ड ग्राहक के केवाईसी सत्यापन के बिना जारी नहीं किया जा सकता। उल्लेखनीय है कि रिवर्ज बैंक ने इससे पहले ये नियम भुगतान एवं निपटान प्रणाली कानून, 2007 की धारा 18 के तहत अप्रैल 2009 में जारी किए थे। आज के नियम भुगतान के इस खंड के तहत सभी मौजूदा नियमों की जगह लेंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You