नई सरकार बनने के बाद नौकरियों के बाजार में आ सकती है बहार

  • नई सरकार बनने के बाद नौकरियों के बाजार में आ सकती है बहार
You Are HereBusiness
Sunday, April 06, 2014-3:59 PM

नई दिल्ली: मानव संसाधन बाजार के विशेषज्ञों की राय में आम चुनाव के बाद स्थिर सरकार बनी तो इस साल नियुक्ति गतिविधियों में 30 से 40 फीसदी का इजाफा होगा और 20 लाख नई नौकरियों के अवसर पैदा होंगे। मानव संसाधन (एचआर) परामर्शकों तथा कार्यकारी खोज कंपनियों के अनुमानों के अनुसार, भारतीय कंपनियों को 2014 में अपनी मौजूदा कारोबारी जरूरतों के लिए 12 से 14 लाख नई भर्तियों की जरूरत होगी।

परामर्शकों ने कहा कि चुनाव बाद यदि नई सरकार के गठन के लिए कम से कम संख्या में दलों के गठबंधन की जरूरत पड़ी तो सरकार में स्थिरता रहेगी और भर्तियों में काफी तेजी आएगी। उनका अनुमान है कि ऐसी स्थिति में 2014 के दौरान 20 लाख से अधिक नई नौकरियां मिलेगी। उनका विश्लेषण है कि भारतीय कंपनियों ने बीते साल विभिन्न क्षेत्रों में 10 लाख नई नौकरियां दी हैं, लेकिन आर्थिक नरमी की वजह से बड़े पैमाने पर छंटनियां भी हुईं। इस तरह नियुक्यिों में शुद्ध वृद्धि कम रही।

इन चुनावों में मतदान 7 अप्रैल से 12 मई तक चलेंगे। रोजगार बाजार में मीडिया, पीआर, कार्यक्रम प्रबंधन, बाजार शोध व सोशल मीडिया जैसे क्षेत्रों में नौकरियों में इजाफा हो रहा है। राजनीतिक दल भी मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए काफी खर्च कर रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You