अब नीलाम होगा किंगफिशर का ट्रेड मार्क

  • अब नीलाम होगा किंगफिशर का ट्रेड मार्क
You Are HereBusiness
Tuesday, April 08, 2014-4:00 PM

मुंबई: लेनदारों ने भारी कर्ज में डूबी निजी क्षेत्र की विमानन कंपनी किंगफिशर की परिसंपत्तियों के साथ अब उसका ट्रेड मार्क भी बेच कर अपना पैसा वसूलने की तैयारी शुरू कर दी है। किंगफिशर को कर्ज देने वाली ऐसी ही एक कंपनी एसबीआई कैपिटल ने किंगफिशर के ट्रेड मार्क बेचने के लिए भारतीय स्टेट बैंक समेत 14 लेन-दान कंपनियों से बोली आमंत्रित की है। इसके लिए किंगफिशर को दिए गए 6500 करोड़ रुपए के कर्ज को शेयरों में तब्दील किया गया है।

भारतीय स्टेट बैंक की अनुषांगिक इकाई एसबीआई कैपिटल ने किंगफिशर एयरलाइंस का ब्रांड नाम खरीदने की इच्छुक कंपनियों से इच्छा पत्र मांगे हैं। किंगफिशर की ओर से कर्ज चुकाने में नाकाम रहने के बाद उसके लेनदारों बैंकों ने अब कंपनी की परिसंपत्तियां बेचकर अपना पैसा वसूलने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कंपनी की ओर से कर्ज के बदले गांरटी के तौर पर रखे गए यूनाइटेड स्पीरिट और मैंगलोर केमिकल्स के शेयर बेचकर लेनदार कंपनियों ने अपना कुछ बकाया वसूल लिया है लेकिन वे एयरलाइंस के अध्यक्ष विजय माल्य के गोआ स्थित बंगले पर कब्जा करने में नाकाम रहीं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You