बख्शी पर NCLT के फैसले के बाद कानूनी विकल्प तलाश रही है McDonalds

  • बख्शी पर NCLT के फैसले के बाद कानूनी विकल्प तलाश रही है McDonalds
You Are HereBusiness
Saturday, July 15, 2017-1:23 PM

नई दिल्ली: रेस्तरां चलाने वाली मैकडोल्ड्स ने कहा कि वह नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (एन.सी.एल.टी.) द्वारा विक्रम बख्शी को कनाट प्लाजा रेस्तरां लि.  (सी.पी.आर.एल.) का प्रबंध निदेशक बहाल किए जाने के बाद कानूनी विकल्प तलाश रही है। बख्शी और मैकडोनाल्ड्स के बीच विवाद चल रहा है।

एन.सी.एल.टी. ने बख्शी को सी.पी.आर.एल. का प्रबंध निदेशक बहाल किए जाने के अलावा अमरीकी कंपनी मैकडोनाल्ड्स कारपोरेशन को संयुक्त उद्यम के कामकाज में हस्तक्षेप से मना किया है। मैकडोनाल्ड्स कारपोरेशन, मैकडोनाल्ड्स इंडिया प्राइवेट लि. (एम.आई.पी.एल.) की मूल कंपनी है। एम.आई.पी.एल. ने एक आधिकारिक बयान में कहा, हम एन.सी.एल.टी. के निर्णय का सम्मान करते हैं। हम फैसले को देख रहे हैं और मामले में कानूनी विकल्प तलाश रहे हैं।
PunjabKesari
एन.सी.एल.टी. के आदेश आने के बाद 45 दिन के भीतर नेशनल कंपनी लॉ अपीलेट ट्राइब्यूनल (एन.सी.एल.ए.टी.) के समक्ष चुनौती दी जा सकती है। सी.पी.आर.एल., मैकडोनाल्ड्स इंडिया प्राइवेट लि. और बख्शी की संयुक्त उद्यम है। कंपनी के पास देश के उत्तर और पूर्वी क्षेत्रों में रेस्तरां चलाने का लाइसेंस है। पूरे मामले के बारे में अपनी प्रतिक्रिया में विक्रम बख्शी ने कहा, हमारे रूख की पुष्टि हुई है और सही कारणों के लिए लड़ाई के बाद हमें न्याय मिला है। उन्होंने कहा कि सी.पी.आर.एल. 2013 के पहले की तरफ काम और वृद्धि के रास्ते पर लौटेगी और निरंतर आगे बढ़ेगी।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You