बैंकों का कर्ज न चुका पाने वाली कंपनियों का प्रबंधन सार्वजनिक उपक्रमों को दिया जाएगा: जेटली  

  • बैंकों का कर्ज न चुका पाने वाली कंपनियों का प्रबंधन सार्वजनिक उपक्रमों को दिया जाएगा: जेटली  
You Are Herebanking
Monday, October 24, 2016-9:53 PM

नई दिल्ली: वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज कहा कि एनटीपीसी तथा सेल जैसी सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को बैंक कर्ज न चुका पा रही कंपनियों के प्रबंधन के काम में लगाया जाएगा ताकि बैंकों के फंसे कर्जों की समस्या से कारगर तरीके से निपटा जा सके।   

उन्होंने कहा,‘‘सरकार कई कदम पहले ही उठा चुकी है। कुछ मामलों में हम पहले ही देख चुके हैं कि कुछ कंपनियां रिण के बदले शेयर देकर निकल चुकी हैं ताकि समूह के कर्ज को कम कर सके और अपने कारोबार को अधिक टिकाउ बना सके। निगरानी समिति ऐसे कुछ मामलों को देख रही है जो हमारी ओर से उठाए गए विभिन्न कदमों के बाद सामने आए है।’’

इस्पात, बिजली और पोत परिवहन क्षेत्रों में फंसे कर्ज की अध्यक्षता करने के बाद जेटली ने कहा,‘‘आज का एजेंडा यह था कि क्या हम कुछ स्थापित और सफल लोक उपक्रमों के प्रबंधन दल को कुछ क्षेत्रों में कुछ संयंत्रों के परिचालन के लिये कम-से-कम अंतरिम तौर पर शामिल कर सकते हैं।’’ बैठक में तीन महत्वपूर्ण सार्वजनिक उपक्रमों एनटीपीसी, सेल और कोचीन शिपयार्ड लि. के चेयरपर्सन शामिल हुए। बैठक में इस बात पर भी विचार किया गया कि कुछ चूककर्ताओं के मामले में क्या किया जाए जिनकी संपत्ति को लेने वाला कोई नहीं मिला। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You