500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने से आम लोगों को होगा यह फायदा

  • 500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने से आम लोगों को होगा यह फायदा
You Are Herebanking
Wednesday, November 09, 2016-1:20 PM

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से 500 और 1000 रुपए के मौजूदा नोटों को बंद करने के ऐलान के बाद माहिर इस फ़ैसले की समीक्षा करने में लगे हुए हैं। जानकारों का मानना है कि इस फ़ैसले से गरीब, मध्यवर्गीय और नौकरीशुदा लोगों को फ़ायदा होगा। इसके चलते रियल एस्टेट में कीमतें कम होंगी और उच्च शिक्षा भी आम लोगों के दायरे में होगी।

अक्सर हम करोड़ों रुपए के नोटों को लोगों के घरों से बरामद किए जाने की ख़बरें सुनते हैं। इस फ़ैसले से काले धन को सफ़ेद आर्थिकता के दायरो में लाने में भी मदद मिलेगी। इतना ही नहीं भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ लड़ाई में भी इसे ख़ास माना जा रहा है। फ़िलहाल भ्रष्टाचार में शामिल लोग अपनी बेनाम संपत्ति को रियल एस्टेट सैक्टर में निवेश करके ख़ुद को साफ़-सुथरे साबित करने की कोशिश करते हैं। इस फ़ैसले से ऐसे लोग नकद भुगतान नहीं कर सकेंगे। ऐसे में जायदाद की कीमतें कम होंगी और गरीबों के लिए मकान का सपना आसान हो सकेगा।

इसके इलावा उच्च शिक्षा ऐसा सैक्टर है, जहां भ्रष्टाचार में शामिल लोग अपनी पूंजी लगाते हैं। कैपीटेशन फीस के कारण उच्च शिक्षा आम लोगों की पहुंच से दूर हो चुकी है। इस फ़ैसले से उच्च शिक्षा के मामले में समानता की स्थिति आ सकेगी, क्योंकि ग़ैर-कानूनी कैश का लेनेदेने संभव नहीं होगा। इसके साथ ही महंगाई पर रोक लग सकेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You