BSNL का मोबाइल टावर कारोबार होगा अलग

  • BSNL का मोबाइल टावर कारोबार होगा अलग
You Are HereBusiness
Wednesday, September 13, 2017-11:56 AM

नई दिल्ली: सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बी.एस.एन.एल.) के मोबाइल टावर इंफ्रास्ट्रक्चर को अलग करते हुए इसे कंपनी की पूर्ण स्वामित्व वाली एक अलग कम्पनी के हवाले करने का निर्णय लिया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की आज यहां हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया।

इस मंजूरी से बी.एस.एन.एल. एक अलग सहायक कंपनी बनाकर अपने टावर इंफ्रास्ट्रक्चर का मुद्रीकरण कर सकेगी। देश में लगभग 4,42,000 मोबाइल टावर हैं जिनमें से 66,000 से अधिक मोबाइल टावर बी.एस.एन.एल. के हैं। बी.एस.एन.एल. की एक स्वतंत्र, समॢपत टावर कंपनी की केंद्रित पहुंच से टावर किराए में वृद्धि होने के साथ-साथ नई कम्पनी के लिए अधिक धन अर्जित होगा। देश में दूरसंचार टावर उद्योग टैलीकॉम कंपनियों के लिए बुनियादी सुविधा प्रदाता के रूप में एक स्वतंत्र व्यवसाय के रूप में उभरा है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You