बैंकों में लगी करोड़ों की सेंध, साइबर क्राईम से उड़ाए गए इतने पैसे

  • बैंकों में लगी करोड़ों की सेंध, साइबर क्राईम से उड़ाए गए इतने पैसे
You Are HereBusiness
Sunday, July 23, 2017-2:18 PM

नई दिल्लीः बैंकों से जुड़े साइबर अपराध के तहत पिछले तीन वित्त वर्ष में 43,204 यानी रोजाना 39 से ज्यादा मामले सामने आए हैं जिसमें अपराधियों ने 232.32 करोड़ रुपए की सेंध लगाई है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, वित्त वर्ष 2014-15 में डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और इंटरनेट बैंकिंग से जुड़े साइबर अपराध के 13,083 मामले आए थे, जिनमें 80.64 लाख करोड़ रुपए की राशि शामिल है। वित्त वर्ष 2015-16 में मामलों की संख्या बढ़कर 16,468 पर पहुँच गई जबकि राशि घटकर 79 करोड़ रुपए रह गई। पिछले वित्त वर्ष कुल 13,653 मामले सामने आए जिनमें 72.68 करोड़ रुपए की राशि शामिल है।

सबसे ज्यादा मामले आई.सी.आई.सी.आई. बैंक के 
पिछले तीन वित्त वर्ष के दौरान साइबर अपराध के सबसे ज्यादा 11,055 मामले आई.सी.आई.सी.आई. बैंक में सामने आये जिसमें 52.80 करोड़ रुपए की राशि शामिल है। कुल 7,144 मामलों के साथ एच.डी.एफ.सी. बैंक दूसरे स्थान पर रहा इनमें 24.53 करोड़ रुपए की राशि शामिल है इसके बाद 6,539 मामले स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक में मिले जिनकी राशि 27.28 करोड़ रुपए है।

तीन साल एक हजार मामलों से ज्यादा वाले बैंक
-कोटक महिंद्रा बैंक (4,929 मामले, 11.45 करोड़ रुपए), 
-सिटी बैंक एन.ए. (3,790 मामले, 18.13 करोड़ रुपए), 
-अमेरिकन एक्सप्रेस बैंकिंग कॉर्पोरेशन (3,700 मामले, 27.80 करोड़ रुपए) -एच.एस.बी.सी. (3,611 मामले, 8.69 करोड़ रुपए)

10 करोड़ से ज्यादा वाले बैंक 
बैंक ऑफ बड़ौदा (20.12 करोड़ रुपए, 31 मामले) , एक्सिस बैंक (13.89 करोड़ रुपए, 660 मामले) का नाम 10 करोड़ से ज्यादा वाले बैंक में शामिल है। इसके अलावा चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में ऐसे 5,149 मामले सामने आ चुके हैं जिसमें साइबर अपराधियों ने 19.63 करोड़ रुपये की सेंधमारी की है। इसमें सबसे ज्यादा 1,528 मामले (2.39 करोड़ रुपये) कोटक महिंद्रा बैंक के, 1,086 मामले (2.64 करोड़ रुपये) अमेरिकन एक्सप्रेस के, 777 मामले (4.31 करोड़ रुपए) एचडीएफसी बैंक के और 515 मामले (3.16 करोड़ रुपये) आई.सी.आई.सी.आई. बैंक के हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You