Subscribe Now!

सोना 80 रुपए टूटा, चांदी 370 रुपए चमकी

  • सोना 80 रुपए टूटा, चांदी 370 रुपए चमकी
You Are HereBusiness
Saturday, October 08, 2016-4:41 PM

नई दिल्लीः वैश्विक सतर पर पीली धातु की चमक फीकी पडऩे से आज दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 80 रुपए टूटकर 30,240 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया जबकि त्यौहारी मांग आने से चांदी 370 रुपए चमक कर 42,300 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। 

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कल रात सांप्ताहांत पर कारोबार बंद होने के दौरान कीमती धातु में मिश्रित रूख रहा। सोना हाजिर 0.09 प्रतिशत फिसलकर 1252.71 डॉलर प्रति औंस पर रहा। अमरीकी सोना वायदा गिरावट लेकर 1251.90 डॉलर प्रति औंस पर रहा।  हालांकि इस दौरान सफेद धातु में तेजी देखी गई। चांदी 0.9 प्रतिशत की बढत लेकर 17.43 डॉलर प्रति औंस बोली गई।  

विश्लेषकों का कहना है कि अमरीका में रोजगार के कमजोर आंकड़े आने से पीली धातु पर दबाव बना है। सोना हाजिर में कुछ मांग आ रही है जिससे पूरे सत्र पीली धातु हरे निशान में रही लेकिन अमरीका के रोजगार के आंकड़े आने के बाद गोल्ड ईटीएफ में बिकवाली शुरू हुई जिससे हाजिर सोना पर दबाव बना और यह गिरावट लेकर बंद हुआ। 

घरेलू स्तर पर त्यौहारी सीजन होने के बावजूद बाजार में ग्राहकी कमजोर होने के साथ ही वैश्विक स्तर पर हो रहे उठापटक का असर भी देखा जा रहा है। इसकी वजह से सोना स्टैंडर्ड 80 रुपए लुढ़ककर 30,240 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतना ही फिसलकर 30,090 रुपए प्रति दस ग्राम बोला गया। आठ ग्राम वाली गिन्नी 100 रुपए गिरकर 24,300 रुपए पर आ गई। त्यौहारी मांग के साथ ही सिक्कों की लिवाली बढने से सफेद धातु में तेजी का रूख कायम रहा। चांदी हाजिर 370 रुपए चढकर 42,300 रुपए प्रति किलो बोली गई। चांदी वायदा भी बढत लेकर 41,855 रुपए प्रति किलो पर रही। सिक्का लिवाली और बिकवाली में एक एक हजार रुपए की तेजी रही। सिक्का लिवाली 72,000 रुपए और बिकवाली 73,000 रुपए प्रति सैकडा बोला गया।  

कारोबारियों का कहना है कि वैश्विक स्तर पर हो रहे उठापटक का सबसे अधिक घरेलू बाजार पर हो रहा है। त्यौहारी सीजन के बावजूद पीली धातु में गिरावट के रूख के कायम रहना बाजार के लिए बेहतर नहीं है। सोना के 30 हजार रुपए प्रति दस ग्राम के पार रहने से निवेशक भी बाजार से दूर बने हुए हैं। उन्हें इसकी कीमतों में करेक्शन का इंतजार है। उन्होंने कहा कि हालांकि चांदी में यह स्थिति नहीं है। चांदी के साथ ही सिक्कों की मांग आने से इसकी कीमतों में तेजी दर्ज की गई है।  

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You