इस हीरा कारोबारी ने दिखार्इ दरियादिली, 125 कर्मचारियों को तोहफे में दी Activa

  • इस हीरा कारोबारी ने दिखार्इ दरियादिली, 125 कर्मचारियों को तोहफे में दी Activa
You Are HereBusiness
Friday, April 21, 2017-1:37 PM

गुजरात: सूरत के हीरा कारोबारी लक्ष्मीदास वेकारिया एक बार फिर से चर्चा में हैं। इस बार उन्होंने अपने 125 कर्मचारियों को तोहफे में एक्टिवा (स्कूटी) भेंट की हैं। लक्ष्मीदास ने अपने कर्मचारियों की परफॉर्मेंस से खुश होकर उन्हें यह तोहफा दिया है।

2010 में शुरु की थी फैक्ट्री
एक बड़ा कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें स्कूटी बांटी गई। हर स्कूटी पर एक तिरंगा भी लगाया गया था। बता दें कि कारोबारी वेकारिया ने 2010 में हीरे तराशने की फैक्ट्री शुरू की थी। शुरुआत से ही कारीगरों ने फैक्ट्री की तरक्की के लिए बहुत मेहनत की जिससे कंपनी को काफी फायदा पहुंचा। कारीगरों की इसी मेहनत से खुश होकर वेकारिया ने अपने 125 वर्करों को एक्टिवा उपहार के तौर पर दी है।

सवजीभाई ने बांटे थे फ्लैट्स और कारें
हालांकि, गुजरात में ऐसा करने वाले वेकारिया अकेले नहीं हैं। इससे पहले हीरा कारोबारी सवजीभाई ढोलकिया ने भी कर्मचारियों को बड़े तोहफे देकर सुर्खियां बटोरी थी। कारोबारी ढोलकिया ने अपनी कंपनी हरे कृष्णा एक्सपोर्ट्स के कर्मचारियों को दिवाली बोनस के रूप में साल 2016 में 400 फ्लैट्स और 1,260 कारें दी थी। एक अनुमान के मुताबिक कंपनी ने अपने कर्मचारियों के बोनस पर 51 करोड़ रुपए खर्च किए थे।

कौन है सवजीभाई
गुजरात के दुधाला गांव के रहने वाले सवजीभाई ने 1977 में 12.50 रुपए लेकर अमरेली से सूरत आए थे। सूरत में सवजीभाई ने 1977 में बतौर हीराधीश अपनी जिंदगी की शुरुआत की थी और उस वक्त महीने में उन्हें 169 रुपए पगार के तौर पर मिलते थे। जिस कंपनी में वो काम करते थे उसी कंपनी के मालिक बन गए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You