डॉ लाल पैथलैब्सः मुनाफा 8.5% बढ़ा

You Are HereResults Company
Thursday, November 03, 2016-4:12 PM

नई दिल्लीः वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में डॉ लाल पैथलैब्स का मुनाफा 8.5 गुना बढ़कर 52.5 करोड़ रुपए हो गया है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में डॉ लाल पैथलैब्स का मुनाफा 6.2 करोड़ रुपए रहा था। डॉ लाल पैथलैब्स ने वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में 16.6 करोड़ रुपए का एकमुश्त घाटा दिखाया था। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में डॉ लाल पैथलैब्स की आय 21.6 फीसदी बढ़कर 262.2 करोड़ रुपए पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में डॉ लाल पैथलैब्स की आय 215.7 करोड़ रुपए रही थी। साल दर साल आधार पर जुलाई-सितंबर तिमाही में डॉ लाल पैथलैब्स का एबिटडा 36.3 करोड़ रुपए से बढ़कर 79.8 करोड़ रुपए रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में डॉ लाल पैथलैब्स का एबिटडा मार्जिन 16.8 फीसदी से बढ़कर 30.4 फीसदी रहा है।

एमएम फोर्जिंग्स का मुनाफा 22.3% घटा
एमएम फोर्जिंग्स का मुनाफा वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में  22.3 फीसदी घटकर 10.2 करोड़ रुपए रहा है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में एमएम फोर्जिंग्स का मुनाफा 13.1 करोड़ रुपए रहा था। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में एमएम फोर्जिंग्स की आय 7.2 फीसदी घटकर 118.6 करोड़ रुपए हो गई है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में एमएम फोर्जिंग्स की आय 127.8 करोड़ रुपए रही थी। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एमएम फोर्जिंग्स का एबिटडा 28 करोड़ रुपए से घटकर 21.3 करोड़ रुपए रहा है। साल दर साल आधार पर दूसरी तिमाही में एमएम फोर्जिंग्स का एबिटडा मार्जिन 22 फीसदी से घटकर 18 फीसदी रहा है।

इंटेलेक्ट डिजाइन को 13.8 करोड़ का घाटा
वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन को 13.8 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। वित्त वर्ष 2017 की पहली तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन को 5.5 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। हालांकि वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन की कुल आय 2.2 फीसदी बढ़कर 231 करोड़ रुपए पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की पहली तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन की कुल आय 206 करोड़ रुपए रही थी। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन की डॉलर आय 14.7 फीसदी बढ़कर 3.52 करोड़ डॉलर पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की पहली तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन की डॉलर आय 3.07 करोड़ डॉलर रही थी। तिमाही दर तिमाही आधार पर जुलाई-सितंबर तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन का एबिट 3.3 करोड़ रुपए से बढ़कर 10 करोड़ रुपए रहा है। तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में इंटेलेक्ट डिजाइन की अन्य आय 16.5 करोड़ रुपए से घटकर 3.7 करोड़ रुपए रही है। इंटेलेक्ट डिजाइन के बोर्ड ने राइट्स इश्यू के जरिए पूंजी जुटाने को मंजूरी दी है।

व्हर्लपूल का मुनाफा 73.5% बढ़ा
व्हर्लपूल का मुनाफा वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में 73.5 फीसदी बढ़कर 59 करोड़ रुपए हो गया है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में व्हर्लपूल का मुनाफा 34 करोड़ रुपए रहा था। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में व्हर्लपूल की आय 20.1 फीसदी बढ़कर 939 करोड़ रुपए पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में व्हर्लपूल की आय 782 करोड़ रुपए रही थी। साल दर साल आधार पर जुलाई-सितंबर तिमाही में व्हर्लपूल का एबिटडा 59.3 करोड़ रुपए से बढ़कर 89.7 करोड़ रुपए रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में व्हर्लपूल का एबिटडा मार्जिन 7.6 फीसदी से बढ़कर 9.6 फीसदी रहा है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You