आधार कार्ड की 8 फर्जी वेबसाइटों पर UIDAI ने दर्ज कराई FIR

  • आधार कार्ड की 8 फर्जी वेबसाइटों पर UIDAI ने दर्ज कराई FIR
You Are HereBusiness
Thursday, April 20, 2017-2:43 PM

नई दिल्लीः भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यू.आई.डी.ए.आई.) ने आधार संबंधित सेवाएं देने और अवैध रूप से लोगों से आधार संख्या और नामांकन विवरण लेने के आरोपों में आठ अनधिकृत वेबसाइटों के खिलाफ एफ.आई.आर. दर्ज कराई हैं। यह पहली मिसाल है जब प्राधिकरण की ओर से आधार संबंधित सेवाओं को देने की कोशिश करनेवाली धोखाधड़ी और अवैध वेबसाइटों पर प्राथमिकयां दर्ज कराई जा रही हैं।

इन 8 वेबसाइटों पर दर्ज हुई FIR
ये वेबसाइटें लोगों से अवैध तरीके से आधार संख्या और नामांकन विवरण ले रही थीं और यू.आई.डी.ए.आई. से अधिकृत संस्थाएं बनकर आधार संबंधी सेवाएं देने का वादा कर रही थीं। इन साइटों के नाम हैं-
आधार अपडेट डॉट कॉम
आधार इंडिया डॉट कॉम
पी.वी.सी. आधार डॉट कॉम
आधार प्रिंटर्स डॉट कॉम
गेट आधार डॉट कॉम
डाउनलोड आधार कार्ड डॉट इन
आधार कॉपी डॉट इन
ड्युप्लिकेट आधार कार्ड डॉट कॉम

इस साइट का करें प्रयोग
यू.आई.डी.ए.आई. के सी.ई.ओ. अजय भूषण पांडे ने कहा कि हमने पाया कि कुछ अनधिकृत वेबसाइटों के बंद करने के आदेश के बाद नई वेबसाइटें बन गईं। इस बार हमने ऐसी वेबसाइटों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज कराई है। ए.आई.डी.ए.आई. के मुताबिक अनधिकृत सेवाएं देने वाली इन वेबसाइटों और कंपनियों का आचरण सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000, आधार अधिनियम 2016 की धारा 38 और भारतीय दंड संहिता की धारा 409 (विश्वास भंग करना) और धारा 420 (धोखाधड़ी) के बराबर है। पांडे ने कहा कि प्राधिकरण ऐसी साइटों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना जारी रखेगी। उन्होंने लोगों से कहा कि वह आधार संबंधित किसी भी सेवा के लिए यू.आई.डी.ए.आई. की आधिकारिक वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट यू.आई.डी.ए.आई. डॉट जी.ओ.वी. डॉट इन (www.uidai.gov.in) का ही इस्तेमाल करें।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You