भविष्य में कम होंगे GST के स्लैब : सुब्रह्मण्यन

  • भविष्य में कम होंगे GST के स्लैब : सुब्रह्मण्यन
You Are HereBusiness
Sunday, November 26, 2017-12:08 PM

हैदराबाद/नई दिल्ली : भविष्य में गुड्स एंड सॢवसेज टैक्स (जी.एस.टी.) के तहत टैक्स स्लैब को कम किया जाएगा। मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रह्मण्यन ने जी.एस.टी. में 12 और 18 प्रतिशत की श्रेणियों को मिलाकर एक श्रेणी बनाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि 1 जुलाई से शुरू की गई यह व्यवस्था अगले 6 से 9 महीने में स्थायित्व पा लेगी तथा अन्य देशों के लिए उदाहरण के रूप में उभरेगी।

कमेटी करेगी रिटर्न फाइलिंग की जरूरतों पर विचार
बता दें कि सरकार ने जी.एस.टी. रिटर्न भरने को आसान करने के लिए भी कदम उठाए हैं। पिछले दिनों जी.एस.टी.एन. के चेयरमैन अजय भूषण पांडे की अध्यक्षता में एक समिति गठित की गई है, जो मौजूदा वित्त वर्ष में रिटर्न फाइलिंग की जरूरतों पर विचार करेगी। इस समिति में गुजरात, कर्नाटक, पंजाब और आंध्र प्रदेश के टैक्स कमिश्नर शामिल हैं। समिति सुझाव देगी कि क्या नियमों, कानून और प्रारूप में किसी तरह के बदलाव की जरूरत है। समिति अपनी रिपोर्ट 15 दिसम्बर तक दाखिल कर देगी। जी.एस.टी. परिषद ने रिटर्न फाइल करने की प्रक्रिया सरल बनाने के उपाय सुझाने के लिए यह समिति गठित की है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You