Housing loan: नई ब्याज दर कटौती योजना से मिडल क्लास को होगा फायदा

  • Housing loan: नई ब्याज दर कटौती योजना से मिडल क्लास को होगा फायदा
You Are HereBusiness
Thursday, January 05, 2017-1:51 PM

नई दिल्लीः हाउजिंग लोन पर रेट कट स्कीम के तहत सरकार सब्सिडी के सारे पैसे लोन लेते वक्त ही जारी कर सकती है। इससे उन लोगों को फायदा होगा जिन्हें बिल्डर्स को शुरुआती भुगतान करने में परेशानी होती है। साथ ही 12 लाख रुपए तक की सालाना आमदनी वाले शहरी क्षेत्र के लोग जल्द ही 4% कम ब्याज दर पर 9 लाख रुपए तक का लोन लेने के योग्य होंगे। यह जानकारी सरकारी सूत्रों से प्राप्त हुई है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 दिसंबर 2016 को नई होम लोन स्कीम की घोषणा की थी, लेकिन इसके डीटेल्स अब तक नहीं आए हैं।

गरीबों के साथ मध्य वर्ग को भी होगा फायदा
केंद्रीय आवास मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि इस स्कीम का फायदा गरीबों के साथ-साथ मध्य वर्ग के लोगों को भी मिलेगा जिन्हें शहरी क्षेत्र में ब्याज दरों में बड़ी छूट मिली हुई है। उन्होंने कहा कि यह योजना लागू करने के लिए विस्तृत बातों पर चर्चा हो रही है और जल्द ही इसकी घोषणा हो जाएगी। ब्याज पर सब्सिडी के रूप में 1,000 करोड़ रुपए की रकम रखी जा चुकी है। अब तक 6 लाख रुपए तक की सालाना आय वाले लोगों को 6 लाख रुपए तक के हाउजिंग लोन पर ब्याज दर में 6.5% की सब्सिडी पाने के हकदार थे। इसका लाभ 20,000 लोगों ने उठाया है।

नया लोन लेने वालों पर ही लागू होगी स्कीम
हाउजिंग मिनिस्ट्री के अधिकारियों के मुताबिक प्रधानमंत्री की घोषणा के मुताबिक नए नियम प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत नए लोन लेने वाले लोगों पर ही लागू होंगे। आवदेकों को ब्याज दर पर सब्सिडी उसी स्थिति में मिलेगी जब उनका देश में कहीं भी कोई घर नहीं हो। एक सूत्र ने बताया, 'नए नियम प्रभावी होने पर ब्याज दर कटौती योजना में कई और इनकम ग्रुप्स शामिल हो जाएंगे और यह स्कीम मिडल क्लास के लिए राहत लेकर आएगी। उदाहरण के तौर पर अगर आप 30 लाख रुपए लोन लेते हैं, लेकिन आपकी सालाना आय 18 लाख रुपए से कम है तो आपको 12 लाख रुपए पर ब्याज दर में छूट मिल जाएगी। कर्ज की बाकी रकम पर आपको बैंक की ओर से निर्धारित दर पर ब्याज चुकाना होगा।'

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You