आम आदमी को बड़ा झटका, ICICI-HDFC बैंक ने FD पर ब्याज दरें घटाई

  • आम आदमी को बड़ा झटका, ICICI-HDFC बैंक ने FD पर ब्याज दरें घटाई
You Are Herebanking
Friday, November 18, 2016-12:07 PM

नई दिल्ली: नोटबंदी के बाद अब लोगों को दूसरा झटका लगा है और एफडी पर ब्याज घट गया है। नोटबंदी के बाद बैंक में जमा होने वाली पूंजी में अचानक हुई वृद्धि को देखते हुए आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक और केनरा बैंक समेत कई बैंकों ने फिक्स्ड डिपॉजिट (एफ.डी.) के मियादी जमाओं पर ब्याज दरें एक प्रतिशत तक घटा दी हैं। डिपॉजिट में कमी के मद्देनजर आने वाले दिनों में बैंकों की कर्ज दरों में भी भारी कमी हो सकती है। आईसीआईसीआई और एचडीएफसी बैंकों के अनुसार नई दरें गुरुवार से लागू हो गई हैं।

आईसीआईसीआई बैंकः 0.15% कटौती
आईसीआईसीआई बैंक के अनुसार 390 दिन से 2 साल तक की फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए ब्याज दर में 0.15 फीसदी की कमी की गई है। आईसीआईसीआई बैंक अब इन डिपॉजिट पर 7.10 फीसदी ब्याज देगा जबकि पहले यह दर 7.25 फीसदी थी।

एचडीएफसी बैंकः 0.25% कटौती
इस बीच एचडीएफसी बैंक ने एक से पांच करोड़ रुपए की जमाओं के लिए ब्याज दरों में 0.25 प्रतिशत की कटौती की है।  संशोधित ब्याज दर के साथ एक साल की मियादी जमा पर ब्याज दर 6.75 प्रतिशत होगी जो पहले 7.0 प्रतिशत थी। तीन साल से पांच साल की मियादी जमाओं पर ब्याज दर 6.75 प्रतिशत से घटाकर 6.5 प्रतिशत की गई है।

केनरा बैंकः 0.25% कटौती
वहीं केनरा बैंक ने जमा दरों में 0.05 प्रतिशत से 0.25 प्रतिशत तक की कटौती की है। आईसीआईसीआई बैंक की वेबसाइट के अनुसार 390 दिन से दो साल तक की जमाओं के लिए ब्याज दर में 0.15 प्रतिशत की कमी की गई है। यह गुरुवार से प्रभावी हो गई. आईसीआईसीआई बैंक अब इन जमाओं पर 7.10 प्रतिशत ब्याज देगा जबकि पहले यह दर 7.25 प्रतिशत थी। बैंक के अनुसार नई दर 21 नवंबर से प्रभावी होगी।

यूनाइटेड बैंक आफ इंडियाः 0.25% कटौती
यूनाइटेड बैंक आफ इंडिया ने एक करोड़ रुपए तक की जमा पर ब्याज दरों में 0.25 प्रतिशत से एक प्रतिशत तक की कटौती की है। यह कटौती 46 दिन से एक साल की मियादी जमाओं पर की गई है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले एसबीआई व एक्सिस बैंक भी इस तरह की पहल कर चुके हैं। यूनाइटेड बैंक ने कहा कि नई दरें 18 नवंबर से प्रभावी होंगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You