सोने पर बढ़ेगी सरकार की सख्ती

  • सोने पर बढ़ेगी सरकार की सख्ती
You Are Herecommodity
Monday, November 14, 2016-4:45 PM

मुंबईः एक टी.वी. शो में वित्त मंत्री अरुण जेतली ने 3 बार इस बात का जिक्र किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बड़े नोट बंद किए जाने की घोषणा के बाद 'एक उद्योग की दुकानें' देर रात तक खुली रही। वह साफ तौर पर सर्राफों की ओर इशारा कर रहे थे, जो वापस लिए गए नोटों को स्वीकार कर सोना बेच रहे थे।

सूत्रों के मुताबिक सरकार सर्राफों पर शिकंजा कसेगी और पुराने नोटों को स्वीकार करने की अंतिम तारीख 15 नवंबर हो सकती है। सोने और आभूषणों की खरीद वह लोग कर रहे हैं जिनके पास कालाधन है। वे 20 से 40 फीसदी कटौकी की पेश कश कर अपने 500 और 1000 रुपए के नोटों को सोने में बदलने की कोशिश कर रहे हैं। 

इस कदम से पुराने नोटों की एवज में काफी अधिक दाम पर सोने की बिक्री रुक जाएगी। यह काम सर्राफे देशभर में शुक्रवार को आयकर विभाग की छापेमारी तक कर रहे थे। आयकर विभाग ने 600 सर्राफों को नोटिस भेजे हैं और उनसे 7 से 10 नवंबर तक की दैनिक बिक्री की ब्यौरा मांगा है। आयकर विभाग के नोटिस में सी.सी.टी.वी. फुटेज विशेष रुप से कैश काऊंटर से पास के कैमरों की फुटेज भी भेजने को कहा गया है। इसके अलावा ग्राहकों से लिए गए पैन और पहचान पत्रों का ब्यौरा भी भेजने को कहा गया है। इसके अलावा ग्राहकों के लिए पैन और पहचान पत्रों का ब्यौरा भी भेजने को कहा गया है। इसके अलावा बाजार में यह भी अफवाह है कि मार्च 2017 तक सोने के आयात पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है लेकिन सूत्रों का कहना है कि ऐसा होने के आसार नहीं हैं लेकिन दिसंबर के अंत तक आयात पर कुछ प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।    
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You